बगलादेशी गिरोह को एटीएस ने दबोचा, पासपोर्ट बनाने वाले तीन सदस्य गिरफ्तार

एटीएस
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) ने फर्जी प्रमाण-पत्रों के आधार पर बांग्लादेशियों के पासपोर्ट बनाने वाले गिरोह में शामिल एक बांग्लादेशी नागरिक समेत तीन लोगों को आज गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें : पाकिस्तान की जेलों में क़ैद हैं 457 भारतीय कैदी, 146 को रिहा करेगा….

एटीएस के महानिरीक्षक असीम अरण ने यहां बताया कि…

  • अभिसूचना विभाग और सहारनपुर पुलिस की टीम द्वारा की गयी संयुक्त कार्यवाही में गाजियाबाद से बांग्लादेशी नागरिक यूसुफ अली को गिरफ्तार किया है
  • साथ ही सहारनपुर के देवबंद से वसीम और एहसान नामक व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया।
  • उन्होंने बताया कि यूपी एटीएस को सूचना मिली थी कि फर्जी आधार कार्ड तथा अन्य प्रमाण पत्रों के आधार पर भारत में अवैध रुप से रह रहे।
  • फर्जी दस्तावेजों के आधार पर विदेश जाने तथा भेजने वाले बांग्लादेशियों का एक गिरोह सक्रिय है।
  • इन दिनों गाजियाबाद के मुरादनगर में रह रहे बांग्लादेशी नागरिक युसूफ अली ने भी देवबन्द से ही फर्जी पते पर पासपोर्ट बनवा लिया है।
  • वह इस गिरोह का सक्रिय सदस्य है।
  • अरण ने बताया कि एटीएस ने यूसुफ को गिरफ्तार कर उसके पास से फर्जी पते पर बनवाए गये दो आधार कार्ड व कई कागजात ज़ब्त किये।

यह भी पढ़ें : पत्नी अनुष्का व साथी खिलाड़ियों के साथ नाचे विराट…

आरोपियों के पास से यह कागज़ात बरामद किये गये…

  • इनमे पैन कार्डड्राइविंग लाइसेंसवोटर कार्डमूल निवास पहचान पत्रपासपोर्ट की छायाप्रतिविभिन्न बैंक की चेक बुक थे
  • इसके अलावा एटीएम कार्ड मोबाइलअन्य लोगों के पश्चिम बंगाल के पते के वोटर कार्ड पासपोर्ट तथा ग्राम पंचायत प्रमाण पत्र की अनेक प्रतियां बरामद की।
  • अभिसूचना विभाग तथा सहारनपुर पुलिस की संयुक्त टीम ने देवबन्दसहारनपुर से वसीम अहमद तथा एहसान अहमद को गिरफ्तार किया।
  • उनके पास से लैपटॉपकंप्यूटरप्रिंटरस्कैनरबडी संख्या में फोटोबने अधबने प्रमाण पत्र तथा अनेक प्रमाण पत्रों की सैंकडों छायाप्रति बरामद हुई हैं।
  • अरण ने बताया कि यूसुफ के खातों में सऊदी अरब से भी कई बार एक-एक लाख से अधिक राशि का लेन-देन हुआ है।
  • जिसकी जानकारी हासिल की जा रही है।
  • अभियुक्तों से मिली जानकारी के अनुसार वे शपथ पत्र तथा स्कूल के फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर जाँच पूरी करा कर पासपोर्ट बनवा लेते थे।
  • इसके एवज में वे बांग्लादेशियों से पैसा वसूलते थे।
  • अभियुक्तों को सम्बंधित कोर्ट में पेश कर ट्रांजिट रिमांड लेकर लखनऊ लाया जाएगा।
  • गिरफ्तार अभियुक्तों के विषय में राष्ट्रीय सुरक्षा तथा आतंकवाद से जुडे पहलुओं पर यूपी एटीएस तथा अन्य एजेंसियां जानकारी जुटा रही हैं।

Related posts:

साम्प्रदायिक दंगों के विरोध में कई संयुक्त सामाजिक व राजनैतिक संगठनों ने किया पुतला दहन
देश की सुरक्षा के लिए चाइना बॉर्डर में तैनात है योगी आदित्यनाथ का छोटा भाई
चिनहट इलाके में तोड़े तीन घरों के ताले, पार किया कीमती सामान
यूपी महोत्सव : अवधी शाम का आयोजन में स्वच्छ भारत मिशन का संदेश
एसटीएफ की गिरफ्त दो सुपारी किलर, जिला पंचायत के पति के हत्या की थी साजिश
D.El.Ed. सत्र 2018-2019 में प्रवेश शुरू, पहले BTC नाम से था संचालित
दलित महासभा के इस बड़े फैसले सपा-बसपा गठबंधन को बड़ा झटका, चुनावों पर पड़ेगा असर
बर्डपुर ब्लाक की ग्राम पंचायतों में होने वाले टेंडर के बारे में जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान
बंगाल पंचायत चुनाव: जीतने के बाद जान बचाते छुप रहे हैं BJP उम्मीदवार
मनकामेश्वर मंदिर में इफ्तार पार्टी को लेकर विवाद, महंत देव्यागिरी पर लगे गंभीर आरोप
आर्थिक तंगी के कारण युवक ने मौत को गले लगाया, सुसाइड नोट हुआ बरामद
फूलन देवी की मुलायम सिंह ने करवाई हत्या, जुटाए जा रहे हैं सबूत: भाजपा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *