अखिलेश ने फिर एक बार पेश की दोस्ती की मिसाल, बसपा को लेकर की एक और बड़ी घोषणा

अखिलेश
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। यूपी में गठबंधन को लेकर बीजेपी में जहां गहमागहमी का मुहल है। वहीं सपा अध्यक्ष अखिलेश अपनी दोस्ती को निभाने के लिए कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहते हैं। राज्यसभा में भले ही ही वह मायावती के उम्मीदवार को नही भेज पाए लेकिन अब अखिलेश ने अपनी दोस्ती को लेकर मिसाल पेश करते हुए एक बड़ा ऐलान किया है। सपा अध्यक्ष ने बसपा उम्मीदवार को विधानपरिषद भेजने का ऐलान किया है।

अखिलेश यादव ने छोड़ी विधानपरिषद की सीट 

यूपी में होने वाले विधानपरिषद के चुनाव में अखिलेश यादव ने अपनी सीट छोड़ने का फैसला किया है। वह यह सीट बसपा के उम्मीदवार को देने वाले हैं। अखिलेश के इस फैसले को बसपा के लिए रिटर्न गिफ्ट के तौर पर देखा जा रहा है। बता दें कि गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में बसपा ने सपा के को समर्थन दिया था जिसमें सपा को दोनों सीट पर जीत हासिल हुई थी। जिसके बाद मायवती ने राज्यसभा चुनाव में सपा का समर्थन मांगा था। लेकिन राज्यसभा में बीजेपी के उम्मीदवार ने जीत हासिल की थी और सपा बसपा को रिटर्न गिफ्ट नहीं दे पायी थी।

बसपा के लिए एक एमएलसी सीट छोड़ेगी सपा 

बता दें कि राज्यसभा चुनाव के समय बसपा ने दोनों एमएलसी सीटों पर सपा को समर्थन की बात कही थी। पर उस वक्त के चुनावी समीकरण, बसपा पर भारी पड़े और उसे करारी हार मिली। अब सपा ने फैसला किया है कि वो एमएलसी की 1 सीट बसपा के लिए छोड़ेगी, जिसे अखिलेश का मायावती के लिए रिटर्न गिफ्ट माना जा रहा है।

बसपा को तय करना है अपना उम्मीदवार 

सपा की इस घोषणा के बाद अब बसपा को अपना उम्मीदवार तय करना है। सूत्रों की माने तो बसपा सुप्रीमो इस सीट के लिए भीमराव आम्बेडकर को उम्मीदवार बना सकती हैं। राज्यसभा चुनाव में बसपा ने  भीमराव आम्बेडकर को अपना उम्मीदवार घोषित किया था। लेकिन उस समय बसप को करारी हार का सामना करना पड़ा था।

Related posts:

चिनहट इलाके में तोड़े तीन घरों के ताले, पार किया कीमती सामान
बेखौफ बदमाशों ने कुछ घण्टों के अन्तराल में दिया लूट की दो बड़ी वारदात को अंजाम
मनकामेश्वर मठ ने किया मतदाताओं को जागरुक
यूपी में नहीं रिलीज होगी पद्मावती!
समाजवादी पार्टी ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, पूरे प्रदेश में धरना प्रदर्शन
विजय केशव गोखले ने संभाला विदेश सचिव का पद, चीन नीति पर रहे हैं विशेषज्ञ
धूमधाम से मना राधा सखी मण्डल का स्थापना दिवस
Whatsapp Group में कासगंज हिंसा को भड़काने की हो रही थी कोशिश, Admin गिरफ्तार
विधान परिषद : मायावती-मुलायम पर टिपण्णी पर हंगामा, विपक्ष की इस शर्त पर फंसी सरकार
राहुल गांधी ने ट्वीट कर रविशंकर प्रसाद पर बोला हमला, फिर मिला ये करारा जवाब
परिवर्तन कर करना है अच्छी दुनिया का निर्माण
सीएम योगी से इस ख़ास मुद्दे पर मदद मांगने पहुंचे थे मुलायम सिंह

One thought on “अखिलेश ने फिर एक बार पेश की दोस्ती की मिसाल, बसपा को लेकर की एक और बड़ी घोषणा”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *