अरुण शौरी ने महागठबंधन को लेकर दी सलाह, कहा- इंदिरा की तरह मोदी को हराना है तो…..

अरुण शौरी
Please Share This News To Other Peoples....

नई दिल्ली। पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरुण शौरी ने विपक्षी दलों के लिए पीएम मोदी के खिलाफ रणनीति को लेकर एक सलाह दी है। शौरी ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए विपक्ष को एक होने की बात कही है। साथ ही उन्होंने कहा कि किसी भी गठबंधन के लिए कोई चेहरा मायने नहीं रखता है। साथ ही उनका मानना है कि विपक्षी दलों को साथ लाने में पीएम मोदी का अहम योगदान रहा है। पीएम विपक्ष को नष्ट करा देने के रवैये का ही नतीजा है जो कट्टर विरोधी सपा-बसपा आज एक साथ हैं।

पढ़ें:- आप विधायकों को मिली राहत, हाई कोर्ट ने नोटिफिकेशन किया रद 

अरुण शौरी ने क्या-क्या कहा..

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी ने एक निजी टीवी चैनल से बातचीत के दौरान विपक्ष एकता को लेकर अपनी राय रखी। उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी की वजह से विपक्षी दलों के बीच एकता नजर आ रही है। लेकिन लगता है कि 2019 के चुनावों के लिए बीजेपी के खिलाफ एक मोर्चो बनाने के लिए यह सही समय नहीं है। शौरी के मुताबिक मोदी सरकार के खिलाफ महागठबंधन के लिए किसी चेहरे की ज़रूरत नहीं है।

पढ़ें:- एनजीटी ने योगी सरकार पर ठोका 1 लाख रुपए का जुर्माना, प्रदूषण रोकने के दिए निर्देश 

अरुण शौरी ने पूर्व पीएम इंदिरा गांधी का जिक्र करते हुए कहा कि वर्ष 1977 में भी इंदिरा गांधी के खिलाफ भी कोई चेहरा नहीं था। राजनीतिक दलों की तुलना में राजनीति बहुत बड़ी है। वहीं बसपा सपा के 25 साल बाद साथ आने और यूपी उपचुनाव में बीजेपी की हार पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों को एक-दूसरे के और अधिक नजदीक आकर काम करना चाहिए।

पढ़ें:- प्यार में डूबा दरोगा नौकरानी को लेकर फ़रार 

वहीं शौरी ने विपक्ष को नष्ट करने की पीएम मोदी की रणनीति की आलोचना की उन्होंने कहा कि उन्हे लगता है कि विपक्ष को एक साथ लाने के लिए पीएम मोदी बहुत कड़ी मेहनत कर रहे हैं और वह सफल होंगे। क्योंकि उन्होंने विपक्ष को आश्वस्त किया है कि हां, मैं आप में से हर एक को नष्ट कर दूंगा। फिर ममता बनर्जी हो या एक्‍स या वाई हो. अगर तुम सब एक साथ नहीं आ जाते तो तुम्‍हारे हार एक की हार का खतरा बना रहेगा। टिप्पणिया अरुण शौरी ने कहा कि विपक्ष ही नहीं बीजेपी के सहयोगी पार्टियां भी सोचते हैं कि अगर ये वापस आए तो उनका पतन होगा।

Related posts:

जिसे ग्रहण कर राहुल ने साबित की देशभक्ति, उसे रूपाणी ने अस्वीकार कर किया था वतन का अपमान
भगवा गमछा लटकाकर गुंडागर्दी की छूट, कैसे सुधरेंगे हालत : अखिलेश
सामाजिक समरसता दिवस के रूप में मनाया गया राज्यमंत्री अनिल राजभर का जन्मदिन
कोप्पल : मतदाताओं पर निर्भर करता है कि वो कांग्रेस को बेहतर मानते हैं या बीजेपी को : राहुल
कुसुम योजना भरेगी किसानों की झोली, जल्द मोदी सरकार लगाएगी मुहर
नीरव के वकील ने कहा- 2G और बोफोर्स की तरह साबित नहीं हो पाएगा पीएनबी घोटाला
अब आपका मोबाइल नंबर 10 नहीं, 13 अंकों का होगा  
कांग्रेस इस ऐलान से बीजेपी की बढ़ी टेंशन, बसपा के खेमे में दौड़ी ख़ुशी की लहर
जनता ने पसंद किया सपा-बसपा का गठबंधन : रामगोपाल यादव
टीबी जैसे रोगों को बढ़ावा दे रहा एन एच 233 का उड़ता हुआ धूल
भागलपुर हिंसा : अर्जित ने किया सरेंडर, कहा- मैंने नहीं, इस विधायक ने फैलाया दंगा
पीएम नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने वाला गिरफ्तार, बम ब्लास्ट का रहा है दोषी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *