भारतीय मजदूर संघ ने बजट के खिलाफ खोला मोर्चा, देशव्यापी प्रदर्शन का ऐलान

- in ख़ास खबर
भारतीय मजदूर संघभारतीय मजदूर संघ

नई दिल्ली। मोदी सरकार ने आज अपने कार्यकाल का आखिरी बजट पेश किया। लेकिन इस बजट से मध्यम वर्ग के लोग खुश नजर नहीं आ रही है। इस बजट को लेकर मध्यम वर्ग और नौकरी-पेशे से जुड़े लोग नाराज नजर आ रहे हैं। वहीं सरकार के खिलाफ आरएसएस के मुख्य सहयोगी संगठनों में से एक भारतीय मजदूर संघ ने मोर्चा खोल दिया है। मजदूर संघ ने राष्ट्रीय स्तर पर सरकार के बजट के खिलाफ प्रदर्शन का ऐलान कर दिया है। लोकसभा चुनाव से पहले आरएसएस के सहयोगी संगठन का यूं खुलकर बजट के विरोध में आना, सरकार के लिए अच्छा संकेत नहीं माना जा रहा है।

भारतीय मजदूर संघ ने जाहिर की नाराजगी

  • मजदूर संघ ने बजट को लेकर अपनी खुलकर नाराजगी जाहिर की है।
  • संघठन की तरफ से कहा गया है कि सरकार ने मजदूरों और नौकरीपेशा वर्ग का बजट में बिल्कुल भी ध्यान नहीं रखा है।
  • इसके अलावा सरकार ने इनकम टैक्स स्लैब में भी कोई बदलाव नहीं किया है।
  • इस बार के बजट में मजदूर वर्ग के लिए कोई भी घोषणा नहीं की गयी है।
  • आगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और आशा वर्कर्स को भी सरकार से निराशा ही हाथ लगी है।
  • ऐसे में भारतीय मजदूर संघ ने बजट का निराशाजनक बताते हुए शुक्रवार को देशव्यापी प्रदर्शन की घोषणा कर दी है।
  • बता दें कि भारतीय मजदूर संघ आरएसएस के प्रमुख संगठनों में से एक है।
  • ये संगठन हमेशा मजदूरों की आवाज बुलंद करता है।
  • इसके पहले भी भारतीय मजदूर संघ मोदी सरकार की नीतियों की आलोचना करता रहा है।
  • संघ ने नोटबंदी और जीएसटी को लेकर भी कहा था कि इसके चलते छोटे और मध्यम उद्योगों को काफी नुकसान हुआ है।
loading...
Loading...

You may also like

प्रेमी को पायलट ट्रेनिंग कोर्स करवाने के लिए प्रेमिका ने उठाया ये बड़ा कदम…

गुजरात। इस गाने को तो सबने सुना ही