मालदीव : चीन ने दिया, भारत को बड़ा झटका

चीन
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। चीन मालदीप में साझा महासागरीय वेधशाला स्टेशन स्थापित करने की राह तलाश रहा है। जोकि भारत की सुरक्षा के लिए नई चिंता पैदा कर सकता है।बता दें मालदीप के विपक्षी नेता दावा कर रहे हैं की, वेधशाला का सैन्य असर भी देखने को मिलेगा क्योंकि इसमें सबमरीन बेस बनने की भी सुविधा होगी।

Image result for मालदीव : चीन ने दिया, भारत को बड़ा झटका

यह भी जानें:-लखनऊ : बुलेरो सवारों और डाला चालक में झगड़ा, तोड़फोड़… 

भारत को नया झटका-

चीन

मालदीप के जिस मकुनुधू इलाके में यह वेधशाला बनाने की पूरी कोशिश की जा रही है जोकि भारत से बहुत दूर नहीं है। आप की जानकारी के लिए बतादें की, मालदीप की राजधानी माले के राजनैतिक सूत्रों के अनुसार इस वेधशाला से चीनियों को हिन्द महासागर के रास्ते पर महत्वपूर्ण अड्डा मिल जायेगा।

बतादें, इसके जरिये कई व्यापारिक व दूसरे जहाजों की आवाजाही भी होती है। यह भारत की समुद्री सीमा के बहुत करीब होगा। मालदीप के साथ सम्बंधो को मद्देनजर रखते हुए यह बहुत चुनौतीपूर्ण साबित होगा।

भारतीय अधिकारियों का प्रोटोकॉल-

‘प्रोटोकॉल ऑन इस्टेबलिशमेंट ऑफ़ जॉइंट ओसन ऑब्जर्वेशन स्टेशन बिटवीन चाइना एंड मालदीव्स’ के नाम से भारत के अधिकारियों ने पिछ्ले साल हुए आधिकारिक समझौते की पुष्टि की थी। तभी दोनों देशों ने मुक्त व्यापार समझौते (FTA) पर दस्तख़त भी किये थे। इस पर किसी प्रकार की टिप्पणी करने के लिए मैटर को बारीकी से समझना जरुरी है।

चीन और मालदीप का प्रोटोकॉल-

मालदीव व चीन के बीच प्रॉजेक्ट के कुछ डीटेल्स की साझेदारी हो रही है। ऐसे में मालदीव की मुख्य विपक्षी पार्टी एमडीपी के एक नेता का कहना है कि भारत के सामने चुनौती यह सुनिश्चित करने की है कि यह स्टेशन भारत को घेरने के मकसद से चीन के तथाकथित ‘स्ट्रिंग ऑफ पर्ल्स’ का ही हिस्सा न बन जाए।
भारत की समस्या यह है कि यह वेधशाला उसी से मिलता-जुलता लग रहा है जिसका ऐलान चीन ने पिछले साल दक्षिण चीन सागर के लिए किया था। उस वेधशाला का ऐलान करके चीन ने सिर्फ अमेरिका ही नहीं दुनिया के सामने दक्षिण चीन सागर में अपने नियंत्रण का दावा मजबूत किया था।
रणनीतिक मामलों के विशेषज्ञ ब्रह्म चेलानी कहते हैं कि भारत को मालदीव को ज्वलंत मुद्दे की तरह देखना चाहिए। उनका कहना है कि भारत को मालदीव एवं चीन की सरकार को इस बात की चेतावनी दे देनी चाहिए कि हम ऐसी महासागरीय वेधाशाला केंद्र को बर्दाश्त नहीं करेगा।

Related posts:

मनमोहन सिंह ने प्रणब मुखर्जी के बारे में कहा कुछ ऐसा, कोई भी नहीं रोक पाया अपनी हंसी
मेयर प्रत्याशी बनने पर नहीें कोई आपत्ति : महंत देव्यागिरी
बलात्कार में नम्बर1 मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र दूसरे व यूपी तीसरे पायदान पर  
Education system में सर्जिकल स्ट्राइक की जरूरत : आशीष
संगम मेले की तैयारियां पूरी,सुरक्षा के व्यापक प्रबन्ध
मन्दिर से अष्टधातु की मूर्ति चोरी, जांच में जुटी पुलिस
राज्यसभा : Amit Shah का पहला भाषण, कहा- “बेरोजगार बैठने से अच्छा है पकौड़ा बनाना”
प्रद्युम्‍न हत्याकांड : कोर्ट ने बस कंडक्टर अशोक को आरोपों से किया बरी
महाराष्ट्र : 30 हजार किसान पहुंचे मुंबई, आन्दोलन से बीजेपी सरकार की बढ़ी मुश्किलें
तो इसलिए कैराना व नूरपुर में अखिलेश का साथ नहीं देंगी मायावती
बीजेपी सांसद की मोदी को चेतावनी- आरक्षण ख़त्म किया तो बहेंगी खून की नदियां
भारत बंद : हिंसा भड़काने के आरोप में बीजेपी नेता गिरफ्तार

One thought on “मालदीव : चीन ने दिया, भारत को बड़ा झटका”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *