चौथे दलित सांसद ने मोदी के खिलाफ खोला मोर्चा, कहा- चार सालों में कुछ नहीं किया

दलित सांसद
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। देश में अगले साल लोकसभा चुनाव होने वाले हैं। वहीं सत्ताधारी बीजेपी को यूपी में एक के बाद एक झटके लग रहे हैं। प्रदेश में उनके ही सांसद अब बगावत पर उतर आए हैं। इस बगावत में अब चौथे दलित सांसद का नाम भी शामिल हो गया है। सावित्री बाई फुले, छोटेलाल खरवार, अशोक दोहरे के बाद अब नगीना से बीजेपी सांसद यशवंत सिंह ने अब मोदी सरकार पर नाराजगी जताई है। उन्होंने यशवंत सिंह ने एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम के फैसले को लेकर सरकार पर सवाल उठाए हैं। जिसको लेकर उन्होंने पीएम मोदी को एक पत्र भी लिखा है।

पढ़ें:- दलित विधायक ने कहा- मोदी की सभा में कुर्सियां उछालो, नौकरी मांगों, FIR दर्ज 

दलित सांसद की नाराजगी की वजह

यूपी में एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम के फैसले को लेकर भारत बंद में हिंसा पर योगी सरकार की कार्रवाई को लेकर सवाल उठ रहे हैं। यूपी में बीजेपी के दलित सांसदों ने यूपी सरकार पर दलितों के खिलाफ भेदभाव का आरोप लगाया है। वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ भारत बंद के दौरान पुलिस द्वारा बिना भेदभाव के कार्रवाई की बात कह रहे हैं।

इसी क्रम में यशवंत सिंह ने एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम के फैसले को लेकर सरकार पर सवाल उठाते हुए पीएम मोदी को लिखे पत्र में कहा है कि वह जाटव समाज के सांसद हैं। उन्होंने मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि उनकी ओर से 4 साल में 30 करोड़ की आबादी वाले दलित समाज के लिए प्रत्यक्ष रूप से कुछ भी नहीं किया गया। बैकलॉग पूरा करना, प्रमोशन में आरक्षण बिल पास करना, प्राइवेट नौकरियों में आरक्षण दिलाना आदि मांगें नहीं पूरी की गई।

दलित सांसद के मुताबिक वे आरक्षण के कारण ही सांसद बन पाए। लेकिन उनकी योग्यता का उपयोग नहीं हो रहा है। उनका कहना है कि सांसद बनने के बाद उन्होंने पीएम मोदी से मांग की थी कि प्रमोशन में आरक्षण बिल पास कराया जाए। उनकी यह मांग अबतक पूरी नहीं हुई है।

दलित सांसद को प्रताड़ित करने का आरोप

वहीं यशवंत ने मोदी सरकार पर दलित सांसदों को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कि वर्त्तमान समय में बीजेपी के दलित सांसद प्रताड़ना के शिकार बन रहे हैं। जनता को कई मुद्दों पर जवाब नहीं दे पा रहे हैं। उनकी मांग है कि मोदी सरकार एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम के फैसले को कोशिश कर पलटवाये। साथ ही बैकलॉग पूरा करे, प्रमोशन में आरक्षण बिल पास हो और प्राइवेट नौकरियों में आरक्षण मिले।

Related posts:

केरल : आईयूएमएल ने जीता वेंगारा उपचुनाव
राहुल के साथ उनकी गाड़ी पर चढ़कर लड़की ने ली सेल्फी, फोटो हुई वायरल
यूपी में पूर्णकालिक पाठ्यक्रम शुरू करेगा यूपीआईडी, शिल्पकारों को मिलेंगे रोजगार के अवसर
सोनिया के हमले से सहमे मोदी, शीतकालीन सत्र मामले में बैकफुट पर सरकार
सूचना न देने वालों पर गिरी गाज, आयुक्त ने ठोंका चार लाख का जुर्माना
इनवेस्टर्स समिट नहीं योगी सरकार का फैशन शो था : मायावती
दो Exit-Poll के मुताबिक त्रिपुरा-नागालैंड-मेघालय में बन रही है इस पार्टी की सरकार
विधान परिषद का चुनाव नहीं लड़ेंगे सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव
गुजरात में गाँव के कुत्ते भी है करोड़पति
मुरादाबाद : परीक्षा देकर लौट रही छात्रा के साथ गैंगरेप, सामने आयी पुलिस की लापरवाही
कलराज मिश्र की मांग, धरोहर-संस्कृति को बचाने के लिए बदला जाए लखनऊ का नाम
राहुल ने मोदी पर साधा निशाना, कहा छोटे व्यापारियों को तोड़ दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *