12 साल से कम उम्र के बच्चे से बलात्कार पर मृत्युदंड की सजा, केंद्र ने दी मंजूरी

मृत्युदंड की सजा
Please Share This News To Other Peoples....

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने शनिवार 12 वर्ष तक की उम्र के बच्चों-बच्चियों से बलात्कार के मामलों में दोषी को मृत्युदंड की सजा सुनिश्चित की है।  इस अध्यादेश को मोदी मंत्रिमंडल ने मंजूरी प्रदान कर दी है। केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में मोदी सरकार ने बच्चों को यौन अपराधों से संरक्षण अधिनियम (पॉक्‍सो एक्‍ट) में संशोधन कर आरोपी को फांसी की सजा पर मुहर लगा दिया है। संशोधित कानून के तहत 16 और 12 साल से कम उम्र की बच्‍चियों के साथ दुष्‍कर्म मामले में दोषियों को मृत्युदंड की सजा  दी जाएगी।

 बच्चों से दुष्कर्म पर मिलेगी मृत्युदंड की सजा

कानून में संशोधन के लिए सरकार अध्‍यादेश लाएगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक लगभग ढाई घंटे चली। जिसमें इस अध्यादेश को मंजूरी दी गयी। इसके साथ ही सरकार ने पॉक्सो एक्ट में भी संशोधन को मंजूरी प्रदान कर दी। देश में बढ़ते बलात्कार के मामलों खासकर बच्चों से दुष्कर्म के मामलों को देखते हुए सरकार पर दबाव बनाया जा रहा था कि वह कड़ा कानून लाये । इसके साथ ही बच्चों से बलात्कार करने वालों को मृत्युदंड दिया जाये। केंद्र सरकार ने इससे पहले उच्चतम न्यायालय को सूचित किया था कि 12 वर्ष या इससे कम आयु के बच्चों के यौन उत्पीड़न के मामलों में मौत की सजा का प्रावधान करने के लिए कानून मंत्रालय कानून में संशोधन पर विचार कर रहा है।

ये भी पढ़ें :-योगी के साथ अमित शाह गांधी परिवार के गढ़ में लगाएंगे सेंध 

पॉक्सो में है  अधिकतम सजा उम्रकैद और न्‍यूनतम सात साल की जेल

पॉक्सो के मौजूदा प्रावधानों के अनुसार, दोषियों के लिए अधिकतम सजा उम्रकैद है और न्‍यूनतम सात साल की जेल है। 18 साल से कम उम्र के बच्चों से किसी भी तरह का यौन व्यवहार इस कानून के दायरे में आता है। इसके तहत अलग-अलग अपराध के लिए अलग-अलग सजा तय की गयी। यह कानून लड़के और लड़की को समान रूप से सुरक्षा प्रदान करता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दो देशों के दौरे से लौटने के तत्काल बैठक

मंत्रिमंडल की बैठक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दो देशों के दौरे से लौटने के तत्काल बाद हुई । प्रधानमंत्री आज सुबह ही वापस लौटे जहां एअरपोर्ट पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उनका स्वागत किया।

Related posts:

श्रीनगर : ताजिया जुलूस को रोकने के लिए आठ थाना क्षेत्रों में धारा 144
लखनऊ: हरी ओम मंदिर में पूर्ण आस्था और उत्साह के साथ मनाया जा रहा कार्तिक महोत्सव
शर्मनाक बयान : छोटे कपड़े में हो लड़की, तो देशभक्त करें उस पर यौन हमला
अंबानी को कर्ज के कारण बेचनी पड़ी अपनी कंपनी
मायावती बोली इस्तीफे का मिला हमे फायदा, अपने ही घर में बेघर होने से बचे मोदी वाले
बैंक ने सिक्के लेने से किया इनकार तो होगी कार्रवाई : RBI
शादी की खुशियां बदल गई मातम में, बुरी तरह जख्मी है दुल्हन
कराची : पाकिस्तान में भी रंगों की धूम, मनाया गया होली का जश्न...देखें फोटो...
झारखंड व बिहार पुलिस को बड़ी सफ़लता, जेजेएमपी का सरगना अरविंद राम गिरफ़्तार
शिक्षामित्रों की याचिका पर दो अप्रैल को इलाहाबाद हाईकोर्ट सुनाएगा फैसला
लखनऊ: कबूतर के खेल का अनोखा प्रदर्शन, 140 की रफ़्तार से उड़ान
पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव के दौरान हिंसा, बम धमाके में 40 लोग घायल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *