नगालैंड में हार के बाद कांग्रेस को लग सकता एक और बड़ा झटका

नगालैंड
Please Share This News To Other Peoples....

नई दिल्ली। नगालैंड में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद पार्टी अध्यक्ष के थेरी नैतिक आधार पर इस्तीफे की पेश क्ष की है। सूत्रों की माने तो थेरी ने चुनाव में हार को लेकर पार्टी के कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में उन्होंने अपने इस्तीफे की पेशकश की है। कहा जा रहा है कि अध्यक्ष के तौर पर थेरी को सीधे कांग्रेस अखिल भारतीय कांग्रेस समिति ने नियुक्त किया था, इसलिए उन्हें एआईसीसी को ही अपना इस्तीफा देना होगा।

पढ़ें:-बुआ-भतीजे का गठबंधन, नहीं रोक पाएगा मोदी का विजय रथ : केशव 

नगालैंड में खाता भी नहीं खोल पायी थी कांग्रेस

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस ने 27 फरवरी को हुए नगालैंड विधानसभा चुनाव में कुल 60 में से 18 सीटों पर चुनाव लड़ा था। लेकिन पार्टी को एक भी सीट नहीं मिल पायी थी। चुनाव में एनडीपीपी ने बीजेपी के समर्थन के साथ वरिष्ठ नेता नेफ्यू रियो की अगुवाई में सरकार बनाई है। सीएम रियो के साथ 10 विधायकों ने शपथ ली है। सीएम रियो को 16 मार्च तक या इससे पहले सदन में बहुमत साबित करने होगा। रियो के पास बीजेपी विधायकों के, एक जदयू और एक निर्दलीय विधायक का समर्थन हासिल है। साथ में एनडीपीपी के 18 विधायक हैं।

पढ़ें:-राहुल गांधी बोले- दादी ने मुझसे कहा वह मरने जा रही हैं और मैंने पिता से कहा कि वह… 

Related posts:

राहुल का मोदी सरकार पर हमला- खोखला भाषण बंद करो, काम दो या सिंहासन छोड़ो
अमित शाह से है छोटूभाई वसावा को जान का खतरा, पुलिस से करवा सकते हैं एनकाउंटर
कासगंज की घटना बीजेपी सरकार की नाकामी दर्शाती है : राज बब्बर
मुसाफिरों को रोक कर धड़ल्ले से बदमाश कर रहे लूट...
शिवराज के मंत्री बोले- चड्ढी पहने TV पर दिखने वाली महिलाओं का विरोध क्यों नहीं?
ककोड़ : जयमाला के दौरान दुल्हन ने चप्पल से की दूल्हे की पिटाई
लोकपाल चयन समिति बैठक : कांग्रेस नेता खड़गे ने ठुकराया आमंत्रण, ये है वजह
चलती बस में 2 भाइयों ने की युवती से छेड़छाड़, एक को पुलिस ने दबोचा
मानहानि : केजरीवाल ने अरुण जेटली से मांगी माफ़ी, कुमार विश्वास पर चलेगा केस
चौथे दलित सांसद ने मोदी के खिलाफ खोला मोर्चा, कहा- चार सालों में कुछ नहीं किया
क्या नहीं रहे अटल बिहारी वाजपेयी? बीजेपी जिलाध्यक्ष ने दी श्रद्धांजलि
खतरे में राजद का राजनीतिक भविष्य, चुनाव आयोग ख़त्म कर सकता पार्टी की सदस्यता

One thought on “नगालैंड में हार के बाद कांग्रेस को लग सकता एक और बड़ा झटका”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *