नो एण्ट्री के दौरान ट्रकों प्रवेश कराकर वसूली कर रहे सिपाही धरे गए, भेजे गए जेल

- in क्राइम, लखनऊ
constable no entry नो एण्ट्रीconstable no entry नो एण्ट्री

लखनऊ। बंथरा इलाके में नो इन्ट्री में प्रवेश कराने के नाम पर ट्रकों से वसूली कर रहे सिपाही धरे गए। दोनों सिपाहियों को एडीजी जोन की विशेष टीम ने गुरुवार को मौके से रंगे हाथों धर दबोचा। अपने को फंसता देख आरोपी सिपाही टीम के सदस्यों से हाथापाई पर उतर आए। बाद में मामला थाने पहुंचा तो विभाग से जुड़े मामले को देख बंथरा पुलिस भी सिपाहियों के पक्ष में खड़ी हो गई और घंटों समझौते का दबाव बनाती रही, लेकिन अधिकारियों के संज्ञान में आने पर फटकार पड़ते ही पुलिस ने घटना के करीब 12 घंटे बाद आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर शुक्रवार को उन्हें जेल भेज दिया।

वसूली कर रहे सिपाही धरे गए, नो एंट्री में ट्रक प्रवेश करने के नाम पर करते थे वसूली

मालूम हो कि बंथरा इलाके में कानपुर रोड स्थित जुनाबगंज तिराहे पर स्थानीय पुलिस द्वारा पिछले लंबे समय से नो इन्ट्री में प्रवेश कराने के नाम पर ट्रक चालकों से जमकर वसूली की जा रही है।

ये भी पढ़ें : किसान को दबोच कर 50 हजार की लूट, विरोध करने पर की पिटाई 

बताते हैं कि इस वसूली को लेकर कई बार इसकी शिकायत पुलिस के उच्चाधिकारियों को मिली। जिसको लेकर एडीजी जोन ने इसे संज्ञान में लेकर पुलिस की एक विशेष टीम बनाते हुए मौके पर लगा दिया। गुरुवार को एडीजी जोन की इस विशेष टीम का नेतृत्व कर रहे प्रभारी निरीक्षक नागेंद्र चौबे अपनी टीम के साथ सादी वर्दी में जुनाबगंज तिराहे पर मौजूद थे। तभी अपराहन करीब 2रू30 बजे स्कॉर्पियो (यूपी 71 . एसी 6786) पर मौजूद फतेहपुर जिले के ट्रक मालिक अलीम और रेहान ने गिट्टी मौरंग की तीन ट्रकों को नो इन्ट्री में प्रवेश कराने के लिए वहां मौजूद हेड कांस्टेबल संतराम और कांस्टेबल श्याम किशुन को 300 रुपए पकड़ाए।

एडीजी जोन की विशेष टीम ने रंगे हांथों दबोचा था

यह नजारा देखते ही दरोगा नागेंद्र चौबे व उनकी टीम ने मौके पर ही सभी को धर दबोचा। सादी वर्दी में टीम को पकड़ते ही आरोपी सिपाही भडक़ गए और उनसे हाथापाई पर उतर आए। बाद में काफी देर तक हुई तू.तू मैं.मैं के बाद दोनों पक्ष बंथरा थाने पहुंचे। जहां अपने विभागीय कर्मचारियों को फंसता देख बंथरा पुलिस समझौते का दबाव बनाने लगी।

सहकर्मी जुटे रहे मामले को रफादफा करने के लिए

लेकिन टीम के सदस्यों ने मामले से उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया। जिसके बाद उच्चाधिकारियों की फटकार पर बंथरा पुलिस ने रात करीब 2 बजे आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर हेड कांस्टेबल संतरामए कांस्टेबल रामकिशुनए ट्रक मालिक अलीम व रेहान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

मौके से भाग निकला था एक अन्य सिपाही

सूत्र बताते हैं कि वसूली के इस मामले में थाने का एक अन्य सिपाही भी शामिल था, लेकिन मामला बढ़ता देख वह मौके से फरार हो गया। जिसके कारण उसका नाम न पता चल पाने से उसे इस मामले में शामिल नहीं किया जा सका है।

loading...
Loading...

You may also like

अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला: कोर्ट ने पांच दिनों के लिए बढ़ा दी क्रिश्चियन मिशेल की हिरासत अवधि

नई दिल्ली। अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला में बिचौलिये मिशेल