सिपाहियों की गिरफ्तारी के बाद भी नो एण्ट्री में भारी वाहनों के प्रवेश के लिए जरी है वसूली

- in क्राइम, लखनऊ
constable no entry नो एण्ट्रीconstable no entry नो एण्ट्री
Please Share This News To Other Peoples....

बंथरा। इलाके में भले ही दो सप्ताह पहले रुपए लेकर नो एण्ट्री में ट्रकों को प्रवेश कराने वाले दो सिपाहियों को पकडक़र जेल भेज दिया गया हो, लेकिन इसके बावजूद भी बंथरा पुलिस में अब तक कोई खास सुधार नहीं हो सका है। बल्कि सिपाहियों ने कुछ दिन रुकने के बाद फिर से अपनी वही करतूत शुरू कर दी। यही नहीं सिपाहियों ने शाम 7 बजते ही मुटठी गरम कर इकठ्ठा बड़े वाहनों को नो इन्ट्री में प्रवेश कराना शुरू कर दिया है।

नो एण्ट्री पर जारी है वसूली

जिसकी वजह से शाम होते ही आए दिन कानपुर रोड के स्कूटर इंडिया चौराहा, नादरगंज तिराहा, एयरपोर्ट वीआईपी तिराहा और शहीद पथ तिराहे के पास अक्सर जाम की स्थिति पैदा होने लगी है। बताते चलें कि गत दिनों प्रशासन की ओर से शहर में प्रवेश करने वाले बड़े वाहनों के लिए रात 11 बजे के पहले  तक प्रवेश पर पाबंदी के आदेश दिए गए थे।

ये भी पढ़ें : शराब के नशे में भोजपुरी स्टार पवन सिंह ने एक्ट्रेस की कर दी पिटाई 

जिसके तहत कानपुर रोड पर कानपुर की ओर से शहर की तरफ आने वाले बड़े वाहनों को बंथरा स्थित जुनाब गंज तिराहे पर ही रोक लिया जाता था। लेकिन इसके बावजूद जुनाब गंज तिराहे पर तैनात सिपाही सरोजनीनगर और ट्रांसपोर्ट नगर की ओर आने वाले गिट्टीए मौरंग आदि के ट्रकों से सौ.सौ रुपए लेकर उन्हें अवैध तरीके से प्रवेश दे देते थे।

उच्चाधिकारियों को आए दिन मिल रही इसकी शिकायत पर एडीजी जोन ने एक विशेष टीम गठित कर जुनाब गंज तिराहे पर तैनात किया और इस टीम ने गत 16 मार्च को नो इन्ट्री में प्रवेश दिलाने के नाम पर रुपए लेने वाले बंथरा थाने के दो सिपाहियों सहित दो ट्रक मालिकों को रंगे हाथों गिर तार कर जेल भेज दिया था।

लेकिन इतना सब होने के बावजूद बंथरा पुलिस में कोई तब्दीली नहीं आ सकी। हालाकि सूत्रों की माने तो उन्हें जेल भेजे जाने के बाद कुछ दिनों तक तो यहां पर वसूली का यह काम बंद रहाए लेकिन बाद में फिर वही काम शुरू हो गया। सूत्रों ने बताया कि सौ.सौ रुपये लेकर फिर दिन में धड़ल्ले से ट्रक नो एंट्री में प्रवेश कराए जा रहे हैं।

यही नहीं शाम 7 बजते ही शहर की तरफ आने वाले बड़े वाहनों से मुट्ठी गरम कर उन्हें इक_ा नो इन्ट्री में प्रवेश कराना शुरू कर दिया गया है। जिसकी वजह से शाम को भारी तादाद में एक साथ बड़े वाहनों के छूटते ही यहां आए दिन जाम की स्थिति उत्पन्न होने लगी है।

loading...

You may also like

लखनऊ: राजधानी में रोजगार मेले का आयोजन 22 सितंबर से

लखनऊ। लखनऊ की राजधानी लखनऊ में रोजगार मेले