गलत जानकारी फैलाने वाले मदरसों और मस्जिदों पर पुनर्निर्माण

- in ख़ास खबर
पुनर्निर्माणपुनर्निर्माण

लखनऊ। थल सेना के जनरल अध्यक्ष बिपिन रावत नें जम्मू-कश्मीर के सभी सरकारी विद्यालयों की मौजूद स्थिति व शिक्षा प्रणाली पर विशेस चिंता व्यक्त करते हुए आज कहा है कि, छात्रों को भ्रमित करने वाली शिक्षा प्रणाली का पुनर्निर्माण करने की आवश्यकता है।

यह भी जानें:-ई-रिक्शा की लूट में दो गिरफ्तार, जेल ले जाते समय एक फरार 

पुनर्निर्माण बिपिन रावत के अनुसार-

  • छात्रों को भ्रमित करने वाली शिक्षा प्रणाली फिर से निर्माण करने की आवश्यकता है।
  • थल सेना दिवस से पहले संवाददाता सम्मेलन में रावत नें कहा है कि, कश्मीर के सभी सरकारी विद्यालयों के छात्रों और शिक्षको को ऐसी शिक्षा दी जा रही है, जो नही देनी चाहिए।
  • आपको दो नक्शे मिलेंगे एक मिलेगा जम्मू-कश्मीर और दूसरा आपको मिलेगा भारत का।
  • बच्चों को अब इस तरह की शिक्षा की क्या आवश्यकता है ?

 जनरल अध्यक्ष ने बतया छात्रों को किया जा रहा भ्रमित-

  • मदरसों पर छात्रों को गलत जानकारी देकर छात्रों को गुमराह करनें का आरोप लगाते हुए कहा।
  • सरकार को घाटी में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड वाले विद्यालयों की संख्या बढाना बेहद आवश्यक है।
  • घाटी के युवाओं में कट्टरता के बारे में पूछा, उन्होंने बताया जम्मू-कश्मीर में सोशल मीडिया पर कट्टरता बहुत ही ज्यादा फैल रही है।
  • क्योंकि विद्यालयों में छात्रों को कुछ ऐसी शिक्षा दी जा रही जो शायद छात्रों के लिए सही नही है।
  • रावत नें कहा सबसे अधिक मात्रा में इसी स्कूल के लोग भटकते हैं, जहाँ कट्टरता का पाठ पढ़ाते है।
  • गलत जानकारी फैलाए जानें वाले मदरसों व मस्जिदों पर नियंत्रण रखनें के लिए सख्त से सख्त कदम उठाये जायेंगे।
loading...

You may also like

पीएम को चोर करने पर भड़के सीएम योगी, कहा- राहुल और कांग्रेस देश से मांगे माफ़ी

गोरखपुर। राफेल डील को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति