बार्डर पर सुरक्षा एजेंसियों एवं कस्टम की हुई समन्वय बैठक

बार्डरबार्डर

सिद्धार्थनगर। भारत-नेपाल बार्डर के ककरहवा बार्डर पर कस्टम कार्यालय पर कस्टम, एसएसबी,पुलिस एव वन विभाग की एक समन्वय बैठक सम्पन्न हुई।

बार्डर पर हुई बैठक

बैठक में सीमा पर स्थापित सभी सुरक्षा एजेंसियों ने एक दूसरे के साथ सामंजस्य बनाकर काम करने का निर्णय लिया गया। जिसमें सभी विभाग को अपने अधिकारों का प्रयोग करने तथा दूसरे के अधिकारों में खलन न डालने पर सहमति बनी तथा सभी ने पब्लिक हित व देश हित को लेकर अपनी-अपनी बात रखी।

ये भी पढ़ें : डायल 100 के दीवान पर हुआ फावड़े से हमला 

ककरहवा बार्डर पर स्थित कस्टम सीमा चौकी पर तैनात इंस्पेक्टर विमल यादव ने कहा कि किसी भी सामानों को सीमा पार ले जाने और भारत में लाने के निर्धारण करना कस्टम का काम न कि अन्य एजेंसियां निर्धारण करें कि कितनी मात्रा में ले जाना है कितनी मात्रा में नही ले जाना है। उन्होंने यह भी कहा कि यदि अनएथराइज्ड रूड से कोई यदि समान लाता है या ले जाता है तो वह गलत है। उसको रोकने का काम एसएसबी का है।

ककरहवा बार्डर पर जँहा कस्टम चौकी है वहाँ सामानों को चेक करना एसएसबी का काम है और लाने और ले जाने का निर्धारण का काम कस्टम का है। इसके अलावा आम नागरिकों की समस्याओं की बात को ध्यान में रखते हुए लोगो ने नागरिको के सहयोग की बात की।

इस दौरान चौकी प्रभारी रामेश्वर यादव, एसएसबी के एसआई मोतीराम, मुख्य आरक्षी अनिल गिरी, वन दरोगा अनुज कुमार उपाध्याय मौजूद रहे।

loading...
Loading...

You may also like

सोनिया के गढ़ पहुंचे पीएम, किया रेलकोच फैक्ट्री का निरीक्षण

रायबरेली। एक दिवसीय दौरे के लिए पीएम नरेंद्र