CWG 2018: 66 पदकों के साथ भारत ने रचा इतिहास, पदक तालिका में मिला तीसरा स्थान

CWG 2018
Please Share This News To Other Peoples....

गोल्ड कोस्ट। 21वें CWG 2018 के आखिरी दिन भारतीय खिलाडियों का शानदार प्रदर्शन जारी रहा । रविवार को भारतीय खिलाड़ियों ने दम दिखाया और उम्मीदों पर खरे उतरते हुए ग्लास्गो के 64 पदकों के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया। कुल मिलाकर भारत ने 66 पदक जीते। इनमें 26 स्वर्ण, 20 रजत और 20 कांस्य पदक शामिल हैं। कॉमनवेल्थ खेलों में ये भारत का अभी तक का तीसरा सर्वश्रेस्ट प्रदर्शन रहा। खेलों और 10वें दिन का आखिरी पदक बैडमिंटन पुरुष डबल्स में सात्विक साईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की फाइनल में हार के साथ रजत के रूप में आया। करोड़ों हिंदुस्तानी खेल प्रेमियों की नजरें आखिरी दिन इस बात पर लगी थीं कि क्या भारत साल 2014 में ग्लास्गो के प्रदर्शन को पीछे छोड़ पाएगा या नहीं।

पीवी सिंधु को CWG 2018 में हरा साइना नेहवाल ने रचा इतिहास, जीता महिला एकल का स्वर्ण

तो वहीं साइना नेहवाल ने अपने आक्रामक खेल के सामने पी वी सिंधू की सारी कोशिशों को नाकाम कर रविवार को राष्ट्रमंडल खेलों में महिला एकल का स्वर्ण पदक जीता। इस मैच से पहले सिंधू पर 3-1 का रिकार्ड रखने वाली साइना ने फिर से अपनी हमवतन प्रतिद्वंद्वी पर अपना दबदबा साबित किया। एक घंटे तक चले मैच में 21-18, 23-21 से जीत दर्ज की। इस जीत से साइना का वर्तमान राष्ट्रमंडल खेलों में शानदार अभियान का भी अंत हुआ।

ये भी पढ़ें :-बेटी बचाओ से क्या हम बलात्काारी बचाओ हो गए हैं : गौतम गंभीर

पदक तालिका में  तीसरे स्थान पर रहा भारत

गोल्ड कोस्ट CWG 2018 में भारत के नाम कुल 66 मेडल रहे। भारतीय खिलाड़ियों ने 26 गोल्ड, 20 सिल्वर और 20 ब्रॉन्ज मेडल जीते। पदक तालिका में भारत तीसरे स्थान पर रहा। भारत से पहले 45 गोल्ड और कुल 136 पदकों के साथ इंग्लैंड दूसरे तो पहले स्थान पर ऑस्ट्रेलिया रहा। ऑस्ट्रेलिया ने 80 गोल्ड मेडल के साथ कुल 197 मेडल जीते। गोल्ड कोस्ट में आए 66 मेडल भारत का तीसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा। भारत ने सबसे ज़्यादा कुल 101 मेडल दिल्ली में 2010 में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में जीते थे। दिल्ली में भारत ने 38 गोल्ड, 27 सिल्वर और 36 ब्रॉन्ज़ मेडल  जीते थे। इससे पहले 2002 में मेनचेस्टर में खेले गए कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने कुल 69 मेडल हासिल किए थे। मेनचेस्टर में भारत के नाम 30 गोल्ड, 22 सिल्वर और 17 ब्रॉन्ज़ मेडल रहे थे।

श्रीकांत ने भी जीता सिल्वर

किदांबी श्रीकांत स्वर्ण पदक जीतने में नाकाम रहे। तीन सेट तक चले कड़े मुकाबले में मलेशिया के ली चोंग वी ने 21-19, 14-21, 14-21 से मात देकर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया वहीं श्रीकांत को रजत पदक से संतोष करना पड़ा। पहला सेट 23 मिनट, दूसरा सेट 21 मिनट और तीसरा सेट भी 21 मिनट चला।

इसके बाद पुरुष डब्ल्स के बैडमिंटन फाइनल में सात्विक साईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी ने सिल्वर मेडल हासिल किया। इन दोनों को फाइनल में इंग्लैंड के मार्कस एलिस, क्रिस लैंग्रिज ने हराया। यूके के दोनों शटलर पहले सेट से ही भारतीय जोड़ी पर भारतीय जोड़ी पर भारी पड़ते नजर आ रहे थे। इंग्लिश जोड़ी ने बेहतर तालमेल दिखाया और भारतीय शटलरों ने पहला सेट 21-13 से गंवा दिया। वहीं भारतीय जोड़ी ने दूसरा सेट भी 21-16 से गंवाया।

बैडमिंटन में आया ब्रॉन्ज़

दिन की शुरुआत में टेबल टेनिस के मिक्स्ड डबल्स मुकाबले में भारत को ब्रॉन्ज मेडल मिला। मनिका बत्रा और जी.साथियान की जोड़ी ने हमवतन अचंत शरत कमल और मौमा दास की जोड़ी को 11-6, 11-2, 11-4 से हराया। इन कॉमनवेल्थ गेम्स में मनिका बत्रा का यह चौथा मेडल रहा।

Related posts:

सैनिकों की मौत के लिए कौन जिम्मेदार : शिवसेना
रेल मुसाफिरों के लिए बुरी खबर, इस सेवा पर बढेगा खर्च...
बांग्लादेश में रह रहे रोहिंग्या बच्चे बीमारियों की चपेट में : UNICEF
जावेद हबीब ने सिखाए हेयर कलरिंग के गुर, Make in india प्रोडक्ट को किया लांच
कुटुम्बा राव : राजस्थान के उदयपुर में मिला 11.48 करोड़ टन सोना
लखनऊ: बोर्ड परीक्षा देने निकले छात्र का अपहरण, खुद फ़ोन करके दी सूचना
गोरखपुर में डुप्लीकेट सीमेन्ट एवं वालपुट्टी बनाने वाली फैक्ट्री का हुआ भांडाफोड़
सीएम योगी का सपा-बसपा पर हमला, कहा- केर और बेर कभी एक साथ नहीं रह सकते
प्रेस कांफ्रेंस: कांग्रेस का बीजेपी पर प्रहार, कहा- अबकी बार डेटा लीक सरकार
नीतीश कुमार का बड़ा फैसला, अब बिहार में नहीं होंगे दलित
खुद को इंटर्न मानती हैं अभिनेत्री श्रद्धा श्रीनाथ
मोगली गर्ल है मेरी बेटी, पीलीभीत से एक और दावेदार आया सामने

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *