शिक्षा विभाग के चक्कर लगा रही है सेवानिवृत्त शिक्षिका, नहीं हुआ वेतन पुनर्निरीक्षण

सेवानिवृत्त
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। बख्शी का तालाब स्थित राजकीय हाईस्कूल खंतारी से सहायक अध्यापक पद से सेवानिवृत्त हो चुकीं। अरुण बाला सक्सेना पिछले डेढ़ साल से डीआईओएस कार्यालय से लेकर पेंशन निदेशालय तक अपने वेतन पुनर्निरीक्षण के लिए चक्कर काट रही हैं। लेकिन अब तक उनका कार्य नहीं हो पाया है। वह थक हार का एक बार फिर डीआईओएस कार्यालय पहुंचीं, लेकिन काम न बनता देख साफ कहा कि अपनी समस्या लेकर अब मुख्यमंत्री के दरबार में ही हाजिरी लगाऊंगी।

वर्ष 2016 में राजकीय विद्यालय खंतारी से हुई थीं सेवानिवृत्त

शिक्षिका अरुण बाला सक्सेना ने बताया कि 31 मार्च 2016 को राजकीय हाईस्कूल खंतारी से सेवानिवृत्त हुई थीं। उसके बाद अपने वेतन पुर्नर्निरीक्षण के लिए पेंशन निदेशालय से लेकर डीआईओएस कार्यालय तक सारी औपचारिकाएं पूरी कर दी। फिर भी उनका काम नहीं हुआ।

ये भी पढ़ें :-एलपीसीपीएस में राष्ट्रीय जॉब फेस्टिवल 21 से व 22 अप्रैल को 

उन्होंने बताया कि उनकी पत्रावली पर पेंशन निदेशालय से प्रपत्र पांच न होने की बात कहकर आपत्ति लगा दी गई। जिसका निस्तारण भी उन्होंने कर दिया। अब पेंशन निदेशालय के कर्मचारी कह रहे हैं कि डीआईओएस कार्यालय से आपत्ति दूर कराइए। जबकि यहां के कर्मचारी पेंशन निदेशालय दौड़ा रहे हैं। आखिर किसके पास जाऊं। उन्होंने कहा कि यदि एक-दो दिन में मेरा काम नहीं होता है तो मुख्यमंत्री से शिकायत करूंगी।

Related posts:

अहमद पटेल के अस्पताल से आतंकी का सम्बन्ध, वे पार्टी से दें इस्तीफ़ा: विजय रूपाणी
भ्रष्टाचार व नशाखोरी सामाजिक प्रदूषण के दो महत्वपूर्ण घटक: अखिलेश
राहुल का बीजेपी पर तंज-"शाह-जादा" की 'अपार सफलता' के बाद नई पेशकश- अजित शौर्य गाथा''
फैज कम्प्यूटर इंस्टीट्यूट के वार्षिकोत्सव में अपर्णा यादव ने छात्रों को किया सम्मानित
तेज़ रफ़्तार ट्रक ने पति-पत्नी को रौंदा
चपरासी बनने की चाह में उमड़े M.A, B.Ed, B.Tech डिग्रीधारी
जननायक कर्पूरी जयंती समारोह का आयोजन
काशी में 'युवा उद्घोष' करेंगे अमित शाह , बीजेपी का Pilot project
लखनऊ: करोड़ों की जमीन पर प्रापर्टी डीलरों व प्लाटिंग कंपनियों का कब्ज़ा
पीएनबी घोटाले को कांग्रेस ने बताया 30 हजार करोड़ का स्कैम, बीजेपी का पलटवार
वरिष्ठ जदयू नेता का BJP के खिलाफ बड़ा बयान, कहा- सभी सहयोगी दल NDA से तोड़ेंगे नाता
सीबीएसई 10 वीं गणित की परीक्षा नहीं कराएगा दोबारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *