गुडम्बा में चोरों ने दिया ताबड़तोड वारदातों को अंजाम

- in क्राइम, लखनऊ
चोरीचोरी

लखनऊ। गुडम्बा इलाके के बिबियापुर गांव में गुरुवार की देर रात एक घर में चोरी कर रहे बदमाशों की आहट से घर के लोगोँ की नींद खुल गयी। परिवारीजनों के शोर मचाने पर छत के रास्ते से बदमाश भाग निकले। भाग रहे बदमाशों की दहशत में मकान मालिक के बेटे ने लाइसेंसी राइफल से आठ राउंड हवाई फायर भी किये। इससे पहले बदमाशो ने पास के ही सेमरा गांव में भी एक घर मे चोरी व दो घरों में चोरी करने का प्रयास किया था। पीडि़त की सूचना पर गुड बा प्रभारी निरीक्षक फोर्स के साथ मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल की। पीडि़त की तहरीर पर अज्ञात चोरों के खिलाफ चोरी का मुकदमा दर्ज कर चोरों की तलाश की जा रही है।

गुडम्बा में चोरों ने दिया ताबड़तोड वारदातों को अंजाम  

बिबियापुर गांव निवासी दिग्विजय सिंह उर्फ बबलू यादव रियल स्टेट कारोबारी है। वह अपने पिता राम पाल यादव, मां जगुरानी, पत्नी ममता, भाई रामू यादव, दो बहन लक्ष्मी यादव व अनूपा और दो बच्चो रुद्र प्रताप ( डेढ साल) व दिव्या (3 माह) के साथ रहता है। पीडि़त दिग्विजय ने बताया कि परिवार के सभी सदस्य अपने-अपने कमरों में सो रहे थे। जबकि पिता राम पाल बरामदे में सोए हुए थे।

रात करीब दो बजे पानी की बोतल गिरने की आवाज सुनकर पिता की आंख खुल गई। नींद खुलने पर देखा कि जीने के पास कच्छा व बनियान पहने एक बदमाश खड़ा था। बदमाश को देखते ही रामपाल ने चोर-चोर चिल्लाते हुए अपने बेटे बबलू को आवाज लगाई। जिस पर बदमाश जीने के रास्ते छत की ओर भागा। पिता के चिल्लाने की आवाज सुनकर दिग्विजय अपनी लाइसेंसी राइफल के साथ भाग कर उनके पास पहुंचा। इस बीच घर के अन्य सदस्य भी जग गये।

दिग्विजय भाई रामू के साथ रायफल लेकर छत पर पहुंचा, लेकिन तब तक बदमाश छत से कूद कर रफू चक्कर हो चुका था। इस दौरान दिग्विजय को लगा बदमाश कही छिपे न हो इसी दहशत में उसने 8 राउंड हवाई फायर भी किया। दिग्विजय ने बताया कि भाई रामू के कमरे की अलमारी से दो लाख रुपये व रामू के पर्स में रखे पांच हजार रुपये सहित अन्य कागजात, दो मोबाइल व कुछ ज्वेलरी पर चोरों ने हाथ साफ कर दिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल की छानबीन करने के बाद अज्ञात बदमाशों के  खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

2013 में भी हुई थी चोरी

पीडि़त दिग्विजय के मकान के मुख्य द्वार के अलावा किसी भी कमरे में कोई दरवाजा नहीं लगा है। चार दीवारी पर मिट्टी से बने पैर के पंजे के निशानो से साफ जाहिर हो रहा है कि चोर बाउंड्री फांदकर अंदर घुसा और बिना कोई रुकावट के कमरों में दाखिल हो गया। पीडि़त ने बताया कि मार्च 2013 में भी उसके यहां बदमाशों ने धावा बोला था। जिसमे बहन कि शादी के लिए रखा जेवर, नकदी, कपड़े समेत  करीब 25 लाख का समान चोरी हुआ था।

सेमरा के तीन घर को भी बनाया निशाना

यह भी पढ़े: धारदार हथियार के बल पर किशोरी से किया गैंग रेप 

बिबियापुर में चोरी करने से पहले बदमाशो ने पास ही के गांव सेमरा के एक घर मे चोरी व दो घरों में चोरी करने का प्रयास किया। जिसमे से भगवानदीन के घर से पर्स (720 रुपये) व टार्च चोरी कर लिया। जबकि अग्निशमन विभाग से हेड कांस्टेबल के पद से रिटायर शिवबरन यादव की बहू शिल्पी ने घर में चोर को देखकर शोर मचा दिया। जिससे चोर वहां से भाग निकला। शिवबरन ने बताया कि चोर छत के जीने का ताला तोडक़र अंदर आया था। वही विद्या प्रसाद रावत के कमरे का ताला तोड़ा पर उनमें भूसा भरा होने के कारण उनके हाथ कुछ नहीं लगा।

डकैती से पुलिस ने किया इन्कार

ग्रामीणों का कहना है कि डकैतों ने यहां रात करीब दो बजे धावा बोलकर चार घरों को निशाना बनाते हुए तीन लाख की डकैती डाली। जबकि दो घरों में धावा बोलने से नाकाम होने के बाद दूसरे दो घरों में पांच-छह डकैतों ने परिवार को बंधक बनाकर घर में रखे जेवर और नकदी लूट कर भाग निकले। वहीं इंस्पेक्टर गुड बा राम सूरत सोनकर का दावा है कि दो लोग चोरी करने के इरादे से आए थे। लेकिन दिग्विजय सिंह की सक्रियता से उन्हें भागना पड़ा। वहीं पीडि़त का कहना है कि घर में लूटपाट करने के बाद बदमाशों ने फ्रिज में रखा पानी पी रहे थे कि बोतल गिरने की आवाज से जानकारी हुई।

 

loading...
Loading...

You may also like

भगोड़े शराब कारोबारी के प्रत्यर्पण पर आज आ सकता है लंदन की अदालत का फैसला

लंदन/ नई दिल्ली। भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या