संसद LIVE : लोकसभा में ट्रिपल तलाक बिल पेश

लोकसभा
Please Share This News To Other Peoples....

नई दिल्ली। लोकसभा में गुरुवार को कानूनमंत्री रविशंकर प्रसाद ने तीन तलाक बिल पेश किया । रविशंकर प्रसाद ने कहा कि हम इतिहास बना रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक को गैरकानूनी बताया।  कोर्ट ने तीन तलाक को  पाप बताया है ।  इसके बाद भी तीन तलाक होगा तो ये सदन खामोश रहेगी ।  लोकसभा को तय करना है कि मुस्लिम महिलाओं का कौई मौलिक अधिकार है या नहीं ।

ये भी पढ़ें :-दिल्ली शर्मसार: भोजपुरी गानों में काम कर चुकी मॉडल से गैंगरेप 

लोकसभा में तीन तलाक बिल पर बहस जारी

  • प्रस्तावित विधेयक के तहत, एक मुस्लिम व्यक्ति जो अपनी पत्नी को तालाक-ए-बिदत यानि इंस्टेंट ट्रिपल तलाक देता है।
  • तो उसे तीन साल जेल की सजा होगी।
  • पीड़ित महिला मजिस्ट्रेट से नाबालिग बच्चों के संरक्षण का भी अनुरोध कर सकती है।
  • मजिस्ट्रेट इस मुद्दे पर अंतिम फैसला करेंगे।
  • इंस्टेंट तलाक एक गैर-जमानती और संज्ञेय अपराध है।
  • जो इस बिल के तहत तीन साल की सजा का कारण बन सकता है।
  • किसी भी तरह का तीन तलाक बोलकर, लिखकर या ईमेल, एसएमएस और व्हाट्सऐप जैसे इलेक्ट्रानिक माध्यम से गैरकानूनी और शून्य होगा।
  • जिसमें इंस्टेंट ट्रिपल तलाक की विवादास्पद प्रथा को अपराध की श्रेणी में रखा गया है।

मुस्लिम महिलाओं के लिए जेंडर जस्टिस और जेंडर समानता बनाए रखना

  • इस बिल पर सरकार का कहना है कि बिल का उद्देश्य विवाहित मुस्लिम महिलाओं के लिए जेंडर जस्टिस और जेंडर समानता बनाए रखना है।
  • बिल का मकसद सुप्रीम कोर्ट द्वारा एक बार में तीन तलाक को गैरकानूनी बताने के बावजूद जारी है ।
  • इस परंपरा पर लगाम लगाना है।
  • इसके तहत पति को अपनी पत्नी और बच्चे के लिए सहायता राशि या जीवनयापन के लिए गुजारा भत्ता देना अनिवार्य होगा।
  • ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड और अन्य अल्पसंख्यक संस्थानों ने अल्पसंख्यकों के अधिकारों का उल्लंघन बताया  है।

तीन तलाक पूरी तरह से इस्लाम के खिलाफ: केटीएस तुलसी

  • वहीं कई सामाजिक कार्यकर्ताओं ने इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सवाल उठाएं हैं।
  • कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि  यह राजनीति का दिन और विषय नहीं है।
  • जो लोग तलाक को वोट बैंक की नजर से देख रहे हैं, वे गलत हैं।
  • ये गरीब मुस्लिम महिला के पक्ष में नहीं है।
  • ऐसा कानून सरकार दे जो कि महिलाओं को अधिकार दे और उनके साथ हो रहे अन्याय को रोक सके।
  • कांग्रेस नेता केटीएस तुलसी ने कहा कि  तीन तलाक पूरी तरह से इस्लाम के खिलाफ है ।
  • इस बिल का मैं समर्थन करता हूं ।
  • बिल में तीन साल की सजा ज्यादा है ।
  • कांग्रेस की प्रवक्ता रंजीत रंजन का कहना है कि हम उन मुस्लिम महिलाओं के साथ हैं ।
  • इस बिल में  जो क्रिमिनल आफेंस का प्वाइंट है उसपर चर्चा की जरूरत है ।
  • बीजेडी के भरतरी मेहताब ने कहा कि ये बिल गलत तरीके से बनाया गया है, इसमें कई कमियां हैं ।
  • इस बिल को लाने में सरकार जरूरत से ज्यादा जल्दबाजी क्यों दिखा रही?

कमाल फारूकी ने केंद्र सरकार पर बोला हमला

  • तीन तलाक मामले मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के मेंबर कमाल फारूकी ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है ।
  • केंद्र सरकार का तीन तलाक पर बिल गैरकानूनी और असंवैधानिक है ।
  •  सरकार ने किसी भी स्टेकहोल्डर से नहीं की गई बात।
  • ताकत के नशे में चूर होकर यह कानून थोपा जा रहा है।
  • जमियत-ऐ-उलेमा एमएच के गुलजार आजमी ने कहा कि जो बिल पेश किया जा रहा है।
  • वह ठीक नहीं है। एक तरफ तो आप इसे तलाक नहीं मानते हैं।
  • इससे महिलाओं को लाभ होने की जगह दिक्कतें होंगी।
  • ओवैसी ने कहा कि अगर ये पास हुआ तो मुस्लिमों के साथ अन्याय होगा।

Related posts:

अखिलेश की ललकार : भाजपा ने झूठ बोलकर हमारी छोटी कुर्सी छीनी, हम उसकी बड़ी कुर्सी छीनेंगे....
पूनावाला पर बोले पीएम मोदी-कांग्रेस में युवा की आवाज को दबाया गया
पीएम की पत्नी जसोदाबेन सड़क दुर्घटना में गंभीर से घायल, अस्पताल में कराया गया भर्ती
रेणुका का पलटवार- मोदी के निंदनीय बयान का जवाब देकर में नीचे गिरना नहीं चाहती
बागी नेता नरेश अग्रवाल ने बदला अपना फैसला, “मैं सपा में था सपा में हूँ”
इन चीजो के सेवन करने से हो जाती है सोरायसिस जैसी समस्या
राजाभैया ने बसपा की हार पर दिया बड़ा बयान, बताया आखिर क्यों वो योगी से मिले थे..
मायावती बोली- डॉ. भीमराव अम्बेडकर ही क्यों, इन नेताओं का नाम भी बदलें
महेंद्र सिंह धोनी ने खोला पहले प्यार का राज, फिर बोले साक्षी को मत बताना
तेजप्रताप की शादी: बुरी नजर से बचने के लिए किया गया ऐसा इन्तेजाम
कांग्रेस-जेडीएस को रहना होगा सावधान, इन चार तरीकों से भाजपा साबित कर सकती है बहुमत
रेप में हुआ असफल तो छात्रा के मुंह और आँख में डाल दी फेविक्विक

One thought on “संसद LIVE : लोकसभा में ट्रिपल तलाक बिल पेश”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *