कठुआ रेप केस : कोर्ट करेगा सुनवाई, पीड़िता की वकील ने कहा- मेरी हो सकती है हत्या

कठुआकठुआ

जम्मू। देश में सबके दिल को दहला देने वाली कठुआ रेप और हत्याकांड मामले में सोमवार को कोर्ट सुनवाई करने वाला है। इस मामले में मासूम के साथ रेप और हत्या के आरोपी एक नाबालिग समेत आठ आरोपियों के खिलाफ सुनवाई होनी है। वहीं पीड़ित परिवार इस मामले में शहर से बाहर किसी कोर्ट में सुनवाई चाहता है। वहीं इस मामले में पीड़ित पक्ष की तरफ से केस लड़ रही वकील दीपिका सिंह राजावत ने अपने साथ रेप या हत्या कराए जाने की आशंका जताई है। वह भी इस केस को जम्मू-कश्मीर से बाहर ट्रांसफर करने की मांग कर रही हैं।

कठुआ रेप केस : पीड़ित परिवार सुप्रीम कोर्ट में देगा अर्जी

इस मामले में केस को जम्मू-कश्मीर से ट्रांसफर करने को लेकर पीड़ित परिवार सुप्रीम कोर्ट की शरण में जा सकता है। वहीं इस मामले में बीजेपी के दो मंत्री चंद्रप्रकाश गंगा और लाल सिंह ने इस कांड की केन्द्रीय जांच ब्यूरो से जांच कराने की मांग के कथित समर्थन करने के कारण महबूबा मुफ्ती मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है। दोनों मंत्री एक मार्च को हिन्दू एकता मंच की रैली में शामिल हुए थे। इस मामले में दोनों मंत्रियों की तरफ से कहा गया है कि शीर्ष नेतृत्व ने उन्हें रैली में शामिल होने के लिए कहा था जिसके बाद ही वह इस रैली में शामिल होने के लिए गए थे।

पीड़ित पक्ष की वकील ने बताया जान के लिए खतरा

इस मामले में पीड़िता के वकील का कहना है कि उनकी बच्ची अगर बाहर जाती है तो उन्हें डर लगता है कि कौन उसे किस नजरिए से देखेगा। समाज को सोच बदलने की जरूरत है। उन्होंने इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट द्वारा मामले में संज्ञान लेने पर संतोष जताया। दीपिका ने अपनी जान को खतरा बताया है। उन्होंने रविवार को कहा कि उन्हें नहीं पता कि कल वो जीवित भी रहेंगी या नहीं। उनके साथ दुष्कर्म हो सकता है, उनके सम्मान को तार-तार किया जा सकता है, उनकी हत्या की जा सकती है। दीपिका ने कहा, शनिवार को धमकी दी गई कि मुङो छोड़ा नहीं जाएगा। मैं सोमवार को सुप्रीम कोर्ट को यह बताऊंगी कि मेरी जान को खतरा है।

loading...
Loading...

You may also like

विवेक हत्याकांड में नया मोड, SIT ने किया हत्या के आरोपी का खुलासा

लखनऊ। प्रदेश की राजधानी का बहुचर्चित विवेक हत्याकांड