कुलदीप यादव की फिरकी का क़माल, पीछे छूटे मुरलीधरन

कुलदीपकुलदीप

दिल्ली। दक्षिण अफ्रीका को अपने ही घर में 6 वनडे मैचो कि सीरिज में तीसरी सबसे बुरी सीरीज का सामना करना पड़ा ।  भारत ने दक्षिण अफ्रीका को वनडे मैच में 4-1 से सीरिज अपने नाम कर ली है ।  यह क्रिकेट के इतिहास में भारत की दक्षिण अफ्रीका में पहली वनडे सीरिज जीत है ।वही दक्षिण अफ्रीका की अपने ही घर में सबसे बड़ी हार है ।  दक्षिण अफ्रीका में शानदार प्रदर्शन करके टीम इंडिया के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने श्रीलंका के दिग्गज गेंदबाज मुथैया मुरलीधरन को भी पीछे छोड़ दिया है।  इससे पहले दक्षिण अफ्रीका को ऑस्ट्रेलिया ने पांच मैचों से ज्यादा की सीरीज में दो बार घर में हार सौंपी है।  ऑस्ट्रेलिया ने 1996-97 में दक्षिण अफ्रीका को 4-3 से मात दी थी।  इसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने ही साल 2001-02 में मेजबान टीम को 5-1 से हराया था।

कुलदीप यादव मुथैया मुरलीधरन को भी पीछे छोड़ दिया

दक्षिण अफ्रीका टीम की सीरीज में हार का एक बड़ा कारण भारत की कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की स्पिन जोड़ी रही है।  इन दोनों को खेलना मेजबान टीम के बल्लेबाजों के लिए टेढ़ी खीर साबित हुआ है।  कुलदीप ने अभी तक 11। 56 की औसत से 16 विकेट लिए हैं।  वहीं, युजवेंद्र चहल ने 16 की औसत से 14 विकेट लिए हैं।दक्षिण अफ्रीका में अच्छा प्रदर्शन करके टीम इंडिया के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने श्रीलंका के दिग्गज गेंदबाज मुथैया मुरलीधरन को भी पीछे छोड़ दिया है।  आप को बता दे बता दें कि दक्षिण अफ्रीका में वनडे सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट चटकाने का रिकॉर्ड मुथैया मुरलीधरन के नाम था, जिस पर अब कुलदीप ने अपना कब्जा जमा लिया है।  मुथैया मुरलीधरन ने 1998 में दक्षिण अफ्रीका में 14 विकेट लिए थे।

ये भी पढ़े :मुस्लिम महिलाओं ने सुनाई आपबीती, कहा हज़ पर जाने के समय होता है यौनशोषण

कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने दक्षिण अफ्रीका में सबसे ज्यादा विकेट हासिल करके रिकॉर्ड्स की भरमारलगा दी है।  भारत के इन नए कलाई के ‘जादूगरों’ ने ओवरसीज में सर्वाधिक विकेट लेने वाले वेस्टइंडीज ऑलराउंडर कीथ अथर्टन का रिकॉर्ड तोड़ा है। कुलदीप और युजवेंद्र अब ओवरसीज में एक वनडे सीरीज में सर्वाधिक विकेट लेने वाले स्पिन गेंदबाज बन गए हैं।  बता दें कि कीथ अथर्टन ने 1998-99 में सात वनडे मैचों की सीरीज में 12 विकेट लेकर वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम किया था।

loading...
Loading...

You may also like

चुनावी वादों को पूरा करना कांग्रेस पार्टी के लिए होगी बड़ी चुनौती

डॉ. हनुमंत यादव विधानसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी