NBRI : शिक्षकों ने पढ़ा पौधों के जीवन का पाठ

NBRINBRI

लखनऊ। राष्ट्रीय वनस्पति अनुसंधान संस्थान( NBRI ) ने इंटर व डिग्री कालेज के विज्ञान शिक्षकों हेतु दो दिवसीय संकाय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया।  NBRI  में आयोजित कार्यक्रम में लखनऊ, कानपुर व आसपास के 18 कॉलेजों के 23 प्रतिभागियों ने भाग लिया।

ये भी पढ़ें :-श्री खाटू श्याम मन्दिर : श्री शिव महापुराण कथा से पहले कलश यात्रा

 NBRI में विज्ञान शिक्षकों का प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित

  • उदघाटन सत्र की अध्यक्षता बीरबल साहनी पुराविज्ञान संस्थान (बीएसआईपी) के निदेशक डॉ. सुनील बाजपेयी ने की।
  • इस अवसर पर डॉ. सुनील बाजपेयी ने कार्यक्रम की प्रशंसा ने की।
  • प्रशिक्षण कार्यक्रम के महत्तव को रेखांकित किया और शिक्षकों से आह्वाहन किया।
  • यह कार्यक्रम  NBRI और बीएसआईपी के सहयोग से आयोजित किया गया।
  • इसका मुख्य उद्देश्य पौधों से सम्बंधित जानकारी शिक्षकों देना था।
  • ताकि  उसको सीख कर छात्रों के ज्ञान को समृद्ध करें।
  •  NBRI के निदेशक प्रो. सरोज के. बारिक ने सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया।
  • कार्यक्रम का संयोजन डॉ. एसके  तिवारी व  संचालन डॉ संजीव ओझा ने किया।

10 विषयों पर  व्याख्यान प्रदर्शन

  • इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में विभिन्न विषयों पर कुल 10 व्याख्यान प्रदर्शन  किये गये।
  • जो मुख्यत: आयुर्वेद, आर्सेनिक समस्या, कपास में कीट प्रतिरोधकता, आण्विक सिस्टमैटिक्स, जलवायु परिवर्तन,  लाईकेन, हर्बल औषधि मानकीकरण, मेटाबॉलिक पाथवे इंजीनियरिंग थे।
  • इस अवसर पर बीएसआईपी के पूर्व वैज्ञानिक  डॉ. चन्द्र मोहन नौटियाल ने वनस्पतियों के उद्भव पर विस्तृत व्याख्यान दिया।
  • प्रशिक्षण कार्यक्रम का  समापन डॉ. डीके उप्रेती की अध्यक्षता  में हुआ।
  •  जिसमें प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र प्रदान किया गया।
loading...

You may also like

सिद्धार्थ विश्वविद्यालय के दीक्षान्त समारोह के मुख्य अतिथि होंगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

सिद्धार्थनगर। सिद्धार्थ विश्वविद्यालय कपिलवस्तु सिद्धार्थ नगर के विद्या