मनी लांड्रिग : लालू की बेटी मीसा ने अपने इस रिश्तेदार को घपले के लिए बताया जिम्मेदार

मनी लांड्रिगमनी लांड्रिग

पटना। चारा घोटाले में सजा काट रहे राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव की सांसद बेटी मीसा भारती ने मनी लांड्रिग के मामले में बड़ा बयान दिया है। इस मामले में उन्होंने घोटाले के जिम्मेदार खुद को बताने की बात से इंकार किया है। यही नहीं उन्होंने मीसा ने इसके लिए अपने पति को जिम्मेदार ठराया है। उनका ये बयान ईडी की पूछताछ के दौरान सामने आया है। उन्होंने पूछताछ दौरान बताया कि कंपनी के रोजमर्रा के कामकाज उनके पति शैलेश और सीए स्वर्गीय संदीप शर्मा ही देखते थे। इसके साथ ही शैलेश कुमार ने ईडी को बयान दिया कि वह कंपनी के मैनेजर और अन्य कर्मचारियों को निर्देश देने जैसे कामों को देखते थे।

पढ़ें:-पूर्वोत्तर राज्यों में हार पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तोड़ी चुप्पी, कहा…. 

मनी लांड्रिग में ईडी ने मीसा और उनके पति को बताया दोषी

वहीं इस मामले में जांच कर रही ईडी का कहना है कि लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा और उनके पति शैलेश कुमार दोनों ने मुखौटा कंपनियों के आड़ में 1.2 करोड़ रुपये की घपले की साजिश की है। बता दें कि ईडी की तरफ से पिछले साल दिसंबर में आरोप पत्र दाखिल किया था। जिसमें बिहार के पूर्व सीएम लालू यादव की बेटी और उनके पति को आरोपी बनाया गया था। आरोप पत्र में कहा गया कि ‘अपराध से जुटाए गए धन से ये दोनों भी सक्रिय रूप से संम्बद्ध रहे और इस मामले में पक्ष हैं, इसलिए मनी लॉन्ड्रिंग अपराध के दोषी हैं।’

पढ़ें:-नगालैंड में टूट सकता है BJP की सरकार बनाने का सपना, NPF ने किया बहुमत का दावा 

पढ़ें:-यूपी उपचुनाव : कांग्रेस देगी अखिलेश की पार्टी को गुड न्यूज़, सपा के खेमे में ख़ुशी लहर 

जिसके बाद दिल्ली की एक अदालत ने आरोप पत्र पर संज्ञान लेते हुए अभियोजन पक्ष की ओर से की गई शिकायत को मनी लॉन्ड्रिंग निरोधक कानून के तहत मानते हुए इस दंपती को समन किया है। एक फार्म हाउस की खरीद से जुड़ा है मामला यह मामला मीसा भारती और उनके पति द्वारा अपनी कंपनी मिशेल पैकर्स ऐंड प्रिंटर्स प्राइवेट के नाम पर दिल्ली में एक फार्म हाउस की खरीद से जुड़ा है। इस मामले में निदेशालय मीसा भारती से पूछताछ कर चुका है।

मीसा और उनके पति पर क्या है आरोप?

जानकारी के मुताबिक़ आरोप पत्र में कहा गया कि मीसा ने संक्षिप्त जवाब दिया और एजेंसी से कहा है कि संबंधित फर्म का रोजमर्रा का कारोबार उनके पति शैलेष कुमार देख रहे थे जबकि कंपनी का वित्तीय ब्योरा कंपनी का चार्टर्ड अकाउंटेंट संदीप शर्मा देख रहा था। ‘दिवंगत सीए’ पर फोड़ा ठीकरा संदीप शर्मा का निधन हो चुका है। ईडी का कहना है कि कंपनी और इसके द्वारा खरीदे गए फार्म हाउस संबधी सवालों का जवाब मीसा के पति और ‘दिवंगत सीए’ ही बेहतर तरीके से दे सकते हैं। आरोप है कि वर्ष 2008-09 में इसके लिए 1.2 करोड़ रुपये मनी लांड्रिंग के जरिये इस्तेमाल किए गए।

पढ़ें:-योगी के मंत्री के बिगड़े बोल, मायावती को शूर्पणखा और मुलायम को बताया रावण, अखिलेश को कहा… 

loading...

You may also like

अमेठी: राहुल गांधी बोले- मेरी आंख में आंख मिलाकर जवाब ना दे सके पीएम मोदी

अमेठी। राफेल मुद्दे पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी