रिश्वत खाकर दर्जन भर से भी ज्यादा लोग हुए एड्स के शिकार, यूपी की घटना

रिश्वत
Please Share This News To Other Peoples....

गोरखपुर। ये बात थोड़ी अटपटी लगती है कि कोई इंसान रिश्वत लेने एड्स का शिकार हो सकता है। लेकिन यहां मामला कुछ और है यहां रिश्वत पैसे की नहीं बल्कि एक अबला की इज्जत की ली गयी। जिसके बाद ये रिश्वत खोर एड्स का शिकार हो गए। ये मामला सीएम योगी आदित्यनाथ के जिले गोरखपुर का है। जहां प्रधान समेत 13 लोगों ने एक महिला का खूब शारीरिक शोषण किया। इसके बाद परिणाम यह हुआ कि पीड़िता के साथ उन दरिंदों को भी एड्स हो गया।

ये भी पढ़ें:-CM योगी के काफिले से टकराई Activa, गंभीर रूप से घायल युवतियां भर्ती 

रिश्वत की पूरी कहानी

  • ये पूरा मामला यूपी के जिला गोरखपुर का है।
  • इसकी कहानी करीब तीन साल पहले शुरू हुई।
  • जहां भटहट क्षेत्र में एक विधवा पति के मर जाने के बाद प्रधान से मदद मांगने पहुंची।
  • वह प्रधान से राशन के लिए गुहार लगाती रही।
  • लेकिन प्रधान को उसके इज्जत पर बुरी नजर पड़ चुकी थी।
  • प्रधान उसे इधर से उधर दौड़ता फिर उसकी मदद के बदले उसका शारीरिक शोषण करता।
  • इसके बाद प्रधान के सेक्रेटरी की उस पर नजर पड़ी।
  • और एक-एक कर सभी दरिंदों की उस अबला पर नियत ख़राब होती गयी।
  • लेकिन वह बेचारी करती भी क्या मजबूरी और पापी पेट उससे ये सब करावा रहा था।
  • वह चुपचाप अपना शोषण सहती है क्योंकि उसको राशन कार्ड जो चाहिए था।
  • और उसे मंरेगा में पेट पालने के लिए काम जो चाहिए था।
  • यह सिलसिला करीब 3 सालों तक चला।
  • साथ ही इस शोषण में करीब 13 लोग शामिल हो गए सभी दरिन्दे उसका शोषण करते।

ये भी पढ़ें:-राष्ट्रीय मंच से यशवंत सिन्हा ने BJP के खिलाफ छेड़ा आन्दोलन, कांग्रेस का मिला साथ 

वक्त ने दी दरिंदो को सजा

  • वह बेचारी अबला सब कुछ चुपचाप सहती रही।
  • वह धीरे-धीरे टूटने लगी लेकिन वक्त को कुछ और ही मंजूर था।
  • अब वक्त था दोषियों को सजा मिलने का था।
  • करीब तीन महीने पहले एक दिन उस महिला की तबियत कुछ ख़राब हुई।
  • जिसके बाद महिला के तथाकथित शुभचिंतक प्रधान ने उसे एक चिकित्सक से दिखाया।
  • सपटल में खून की जांच में पता चला कि महिला को एचआईवी संक्रमण हो गया है।
  • जिसके बाद रिपोर्ट बारे में सुनते ही सभी तथाकथित शुभचिंतकों के होश उड़ गए।
  • इसके बाद उसे बीआरडी मेडिकल कॉलेज के एआरटी सेंटर में भर्ती कराया गया।
  • वहां जांच हुई तो रिपोर्ट में एड्स संक्रमित होने की बात की पुष्टि हो गई।
  • चूंकि, एआरटी सेंटर पर ऐसे मरीजों की काउंसलिंग की जाती है।
  • मरीज के संबंधों की पड़ताल की जाती ताकि समय रहते अन्य लोगों का भी इलाज किया जा सके।
  • काउंसलिंग के दौरान महिला ने अपने साथ हुई एक-एक बात बता दी।
  • कहानी जानकर एक्सपर्टस् भी परेशान हो उठे।
  • इन लोगों ने एक-एक कर 13 लोगों की जांच की तो पता चला कि सबको संक्रमण है।
  • अभी इन लोगों से जुड़े अन्य लोगों की जांच नहीं हो सकी है।
  • बताया जा रहा कि महिला का पति परेदस में कमाता था।
  • करीब छह साल पहले विवाह हुआ था। लेकिन शादी के तीन साल बाद ही उसकी मौत हो गई।
  • अनुमान लगाया जा रहा कि महिला को उसके पति से ही यह बीमारी मिली थी।
  • जो अनजाने में उससे अन्य लोगों में फैलता गया।

Related posts:

मिस्र की मस्जिद में धमाका, 235 नमज़ियों की मौत...
मुन्ना बजरंगी का साथी अवैध असलहे के साथ गिरफ्तार
पूर्व BJP MLA के बेटे की गोली मारकर हत्या, हिस्ट्रीशीटर और दोस्तों की हुई पहचान
टी­­­­-20 में अजेय बढ़त करने उतरेगी टीम इंडिया
लखनऊ : डकैतों के तांडव से डरे माल के लोग...
CBSE की बोर्ड परीक्षा से पहले, Counseling सेवा
ZEAL 2018 : सकारात्मक व रचनात्मक सोच से होता है प्रबंधक गुण का विकास
यूपी में सबसे अमीर है अखिलेश की समाजवादी पार्टी : एडीआर
थप्पड़ कांड: विधायक अमानतुल्ला खान को दिल्ली हाईकोर्ट ने दी राहत
बरेली: बीजेपी सभासद के बेटे ने की दो लड़कियों को किडनैप करने की कोशिश
आंबेडकर जयंती में शामिल होने पहुंचे जिग्नेश मेवाणी, पुलिस ने लिया हिरासत में
तीन साल की बच्ची से मकान मालिक ने किया बलात्कार

2 thoughts on “रिश्वत खाकर दर्जन भर से भी ज्यादा लोग हुए एड्स के शिकार, यूपी की घटना”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *