ओरिएण्टल बैंक घोटाले में कांग्रेस नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह के दामाद का हाथ

ओरिएण्टल बैंकओरिएण्टल बैंक

नई दिल्ली। PNB घोटाले के बाद ओरिएण्टल बैंक ऑफ़ कॉमर्स में करीब 390 करोड़ का घोटाला सामें आया था। इस मामले में सिम्भावली शुगर्स लिमिटेड पर आरोप लगे हैं। घोटाला सामने आने के बाद इसमें पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के दामाद का भी नाम सामने आया है। पुरे मामले में CBI ने कंपनी के चेयरमैन, CEO और एमडी समेत 11 अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

ये भी पढ़ें:राहुल गांधी ने भी माना Hindu देवी-देवताओं की भक्ति में है शक्ति 

ओरिएण्टल बैंक घोटाले में कांग्रेस नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह के दामाद का हाथ

ओरिएण्टल बैंक में घोटाले की जांच में लगी सीबीआई की टीम ने सिम्भावली कंपनी के  8 ठिकानों पर छापेमारे की है। जिनमें एक उत्तरप्रदेश के हापुड, एक नोएडा में और 6 ठिकाने दिल्ली के हैं। साथ ही कंपनी के अधिकारियों पर भी शिकंजा कसा है। जिसमें गुरमित सिंह मान का नाम सामने आया है। गुरमित सिंह पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के दामाद हैं। आरोप है कि चीनी कंपनी ने ओरिएण्टल बैंक से दो बार लोन लिया था। जिसमें एक लोन 97 करोड़ का और दूसरा 110 करोड़ का था।

ये है पूरा मामला

FIR के मुताबिक बैंक ने कंपनी को 2011 में 148।60 करोड़ का लोन दिया था। यह लोन RBI की एक स्कीम के अंतर्गत दिया गया था। जिसमें 5762 गन्ने के किसानों को आर्थिक सहायता दी जानी थी। लेकिन इस राशि को बैंक ने अपने निजी इस्तेमाल के लिए गलत तरीके से ट्रांस्फर कर लिया था। इसके बाद बैंक ने 28 जनवरी 2015 को 110 करोड़ का एक कार्पोरेट लोन कंपनी को दिया था। जून 2016 की क्लोजिंग में बैंक की ओर से कंपनी पर कुल 112।94 करोड़ रुपए की देनदारी थी। कंपनी को दिया गया 110 करोड़ का लोन भी नवंबर 2016 तक NPA बन गया। इस तरह 110 और 97।85 करोड़ के दोनो लोन कंपनी पर कर्ज के रूप में हैं।

loading...

You may also like

अलीगढ़ एनकाउंटर पर उठे सवाल, पुलिस वाले इत्मीनान से खिंचवा रहे थे फोटो

अलीगढ़। यूपी पुलिस एक बार फिर एनकाउंटर को