जम्मू-कश्मीर में सियासी संकट, पीडीपी-बीजेपी गठबंधन टूटने की कगार पर

पीडीपी
Please Share This News To Other Peoples....

नई दिल्ली। बीजेपी के अपने करीबियों के साथ रिश्ते बिगड़ने का दौर जारी है। आंध्र-प्रदेश के बाद अब जम्मू-कश्मीर में बीजेपी के सहयोगी पीडीपी के साथ रिश्तों में खटास की खबरें है। इसकी वजह सीएम महबूबा मुफ्ती ने राज्य के वित्त मंत्री हसीब द्राबू की कश्मीर पर एक टिप्पणी को लेकर उन्हें मंत्रिपरिषद से बर्खास्त कर दिया जाना बताया जा रहा है। जिसको लेकर बीजेपी के नेता नाराज दिखाई पड़ रहे हैं। इस मामले में सूत्रो से मिली जानकारी के मुताबिक राज्य के बीजेपी नेताओं को दिल्ली तलब किया गया है। वहीं केन्द्रीय नेतृत्व के वरिष्ठ नेता इस मामले में पूरी जानकारी लेंगे।

पढ़ें:-राजनीति : नरेश अग्रवाल के शामिल होते ही BJP की फजीहत शुरू 

पीडीपी और बीजेपी में खटास की वजह

बता दें कि हसीब द्राबू बीजेपी के बेहद ख़ास माने जाते हैं। पीडीपी से रिश्ते बनने में इनकी अहम भूमिका रही है और जीएसटी के लागू करने में भी इनका काफी अहम योगदान दिया था। वहीं बीजेपी के नेताओं का कहना है कि राज्य में उनका नेतृत्व नेता ही सरकार में नहीं है तो उनका सरकार में रहने का क्या फायदा है। राजनीतिक सूत्रों ने बताया कि नयी दिल्ली से वापस जम्मू लौटने पर सीएम ने राज्यपाल एनएन वोहरा को एक पत्र लिख कर द्राबू को मंत्रिपरिषद से तत्काल प्रभाव से बर्ख़ास्त करने की सिफारिश की थी। जिसके बाद राज्यपाल ने पत्र की जांच करने के बाद सीएम को जवाबी पत्र लिखकर द्राबू को मंत्रिपरिषद से हटाने के उनके अनुरोध को अपनी मंजूरी देने से उन्हें अवगत कराया।

पढ़ें:-सोनिया का डिनर पार्टी तो है एक बहाना, असली मकसद है महागठबंधन बनाना 

बताया जा रहा है कि महबूबा मुफ़्ती के इस कदम से बीजेपी के नेता बेहद नाराज दिखाई पड़ रहे हैं। द्राबू बीजेपी के बेहद चहिते रहे हैं उन्होंने जीएसटी को लागु करने में अहम भूमिका निभाई थी। वहीं उनको बर्खास्त किया जाना दोनों पार्टियों के बीच खाई बन सकता है।

एक अखबार में द्राबू की टिप्पणी छपने के बाद रविवार से ही उन पर दबाव बढ़ रहा था। उन्होंने शुक्रवार को नयी दिल्ली में एक कार्यक्रम में कहा था , ‘‘जहां तक मुझे लगता है, यह (जम्मू कश्मीर) एक राजनीतिक मुद्दा नहीं है। पीडीपी ने रविवार को द्राबू से अपना बयान वापस लेने को कहा था क्योंकि यह पार्टी के रूख के विपरीत है। पीडीपी उपाध्यक्ष मोहम्मद सरताज मदनी ने यहां कहा कि पार्टी जम्मू कश्मीर को एक राजनीतिक मुद्दा मानती है।

Related posts:

भाजपा राज में धरे के धरे रह गए अपराध नियंत्रण के दावे: राजेंद्र चौधरी
हार्दिक को विलेन बनाने के लिए बीजेपी का बड़ा दांव , कांग्रेस ने झटका हाथ
बढ़ रही है यूपी पुलिस की जिम्मेदारी, करें संवेदनशील व्यवहार : डीजीपी
तीन तलाक पर बिल को कैबिनेट की मिली मंजूरी
69th गणतंत्र दिवस की तैयारियां शुरू...
Bihar Police Constable Result 2017 : इस तारीख से प्राप्त होंगे एडमिट कार्ड
बाटला हाउस एनकाउंटर में फरार आतंकी जुनैद को दिल्ली पुलिस ने दबोचा, 15 लाख का था इनामी
केजरीवाल की माफ़ी पर AAP में घमासान, अध्यक्ष के बाद उपाध्यक्ष का इस्तीफ़ा
ट्रेंकुलाइज कर गोसाईगंज में पकड़ा तेंदुआ, लाया गया लखनऊ चिडिय़ाघर
जज बीएच लोया मौत केस में SIT जांच की याचिका सुप्रीमकोर्ट में ख़ारिज
प्रतापगढ़ पहुंचे सीएम योगी ने मंच पर अफसरों को लगाई फटकार
लखनऊ : ज्येष्ठ के चौथे बड़े मंगल पर 151 किलो का चढ़ा बूंदी लड्डू , भक्तों ने चखा पकवान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *