कठुआ रेप केस में वकील को पेश होने से नहीं रोक सकते : सुप्रीम कोर्ट

कठुआ रेप केस
Please Share This News To Other Peoples....

दिल्ली। कठुआ रेप केस मामले में अब सुप्रीमकोर्ट ने लेटर पेटीशन को संज्ञान में लिया है। सुप्रीम कोर्ट ने अब जम्मू कश्मीर कठुआ जिला बार एसोसिएशन, बार कौंशिल आफ इण्डिया और जम्मू कश्मीर हाई कोर्ट बार एसोसिएशन को नोटिस जारी के जल्द ही जबाब माँगा है। चीफ जस्टिस ने साफ कर कहा है की कानून में है की यदी कोई वकील या एसोसिएशन या कोई भी वकील को केस में आरोपी या पीड़ित को आने से नही रोक सकते। अगर वकील अपने क्लाइंट का केस स्वीकार करता है तो उसकी जिम्मेदारी है कि वो उसके लिए पेश हो। अगर उसे रोका जाता है तो ये कानूनी प्रक्रिया में रूकावट माना जायेगा। इस मामले की अगली सुनवाई 19 अप्रैल को होगी।

कठुआ रेप केस में वकील को पेश होने से नहीं रोक सकते : सुप्रीम कोर्ट

आप को हम बता दे को 46 वकीलों के ग्रुप ने कोर्ट में स्वत: संज्ञान लेने के लिए दाखिल की की थी पत्र अर्जी पत्र इस पत्र अर्जी में मिडीया रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा है कि 8 साल की बच्ची की रेप और हत्या के मामले में जिस तरह से बार एसोसिएशन के कई वकीलों ने प्रदर्शन किया और क्राइम ब्रांच के वकीलों को आरोप पत्र को दाखिल करने से रोका गया था। बाद में जम्मू कश्मीर बार एसोसिएशन के सदस्यों ने समर्थन किया और पीड़ितों के परिवार के साथ साथ उनके वकील को आरोपियों ने धमकाया।

ये भी पढ़े : उन्नाव गैंग रेप केस में हिरासत नही गिरफ्तारी करे सरकार : हाईकोर्ट 

ये हामारे आजाद भारत के सिस्टम पर बहुत बड़ा आघात है, जो कानून के शासन के सिद्धांत पर आधारित है और कानून की नजर में सबको बराबर संरक्षण पर विश्वास रखता है। इस अर्जी पत्र में जम्मू कश्मीर हाई कोर्ट बार एसोसिएशन, बार कॉउंसिल ऑफ जम्मू कश्मीर और DGP को नोटिस जारी कर डिटेल रिपोर्ट देने को कहा जाए।
 

 

 

Related posts:

फिलीपिंस: अपने पर नाम रखे खेत में किसानी करते नजर आये पीएम मोदी
ऑटो दुर्घटना में महिला की मौत, बाक़ी नौ लोग घायल
किसानों को सिर्फ रात में और नैनो को 24 घंटे बिजली, वाह रे! बीजेपी
सुष्मिता सेन और मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर का वायरल वीडियो, जानें पूरा सच
Republic Day: राज्यपाल रामनाईक और सीएम योगी ने दी तिरंगे को सलामी
किसान ने खेत में लगायी सनी लियोन की बिकनी वाली पोस्टर, जानिए क्या है वजह
विक्रम कोठारी पर लटकती गिरफ्तारी की तलवार, पत्नी-बेटे से CBI कर रही है पूछताछ
गोंडा में पुलिस की दबंगई सारे कागजात होने के बावजूद गाड़ी को किया सीज
टीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों ने किया बीजेपी मुख्यालय का घेराव,लाठी चार्ज
प्रेस कांफ्रेंस: कांग्रेस का बीजेपी पर प्रहार, कहा- अबकी बार डेटा लीक सरकार
टाइम पत्रिका की प्रभावशाली शख्सियतों की सूची में दावेदार बने पीएम मोदी
चेक बाउंस मामले में राजपाल यादव को देना होगा 11 करोड़ 20 लाख का जुर्माना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *