फ्रांस के राष्ट्रपति से मिले राहुल गांधी, राफ़ेल विमान सौदे पर साधी चुप्पी

फ्रांस के राष्ट्रपति
Please Share This News To Other Peoples....

नईदिल्ली। मंगलवार को कांग्रेस पार्टी के नवनियुक्त अध्यक्ष राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से मुलाकात की। लेकिन जिस राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर राहुल बीजेपी पर सवाल उठा रहे थे उसपर पर बात नहीं किया गया। खबर है कि मुलाकात के वक्त राहुल और मेक्रों ने उदारवादी लोकतंत्र, झूठी खबरों आदि मुद्दों पर चर्चा की। इस दौरान विश्व स्तर पर मिलने वाली चुनौतियों पर भी चर्चा हुई।

फ्रांस के राष्ट्रपति से मिले राहुल गांधी, राफ़ेल विमान सौदे पर साधी चुप्पी

फ्रांस के राष्ट्रपति से मुलाकात करने पहुंचे राहुल गांधी के राफ़ेल विमान सौदे पर बात ना करने से कई सवाल उठाते नजर आ रहे हैं। बता दें कि हाल के महीनों में राफेल सौदे को लेकर मोदी सरकार पर लगातार हमला बोला गया है। राहुल का आरोप था कि राफेल को ज्यादा कीमत पर खरीदा गया है। जिसके लिए देश को बड़ा नुकसान हुआ है। मैक्रों से मुलाकात के बाद कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट में लिखा है कि उन्होंने उदारवादी लोकतंत्र के मायनों पर फ्रांस के राष्ट्रपति से लंबी चर्चा की है। दोनों देशों के लोकतांत्रिक माहौल के बारे में बात की तथा वैश्विक चुनौतियों पर भी चर्चा हुई। मुलाकात के वक़्त पूर्व पीएम मनमोहन सिंह भी उनके साथ थे।

ये भी पढ़ें:सोनिया का डिनर पार्टी तो है एक बहाना, असली मकसद है महागठबंधन बनाना 

रणदीप सुरजेवाला ने दी सफाई

राहुल का मेक्रों के साथ राफेल सौदे पर बात नहीं करने पर उठ रहे सवालों का राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया से बात की। सुरजेवाला ने कहा, रक्षा मंत्री ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए राफ़ेल विमान की कीमत बताने से इन्कार कर दिया। लेकिन 2016 की वार्षिक रिपोर्ट में बताया गया है कि 58,000 करोड़ रुपये में 36 राफेल विमान भारत को बेचा गया है। इस हिसाब से एक विमान की  कीमत करीब 1,670 करोड़ रुपये होगी। जबकि यही विमान 11 महीने पहले मिस्त्र देश को 1,319 करोड़ रुपये में प्रति फाइटर की दर से बेचा गया। इस हिसाब से भारत को पूरे सौदे में 12,632 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *