RSS ब्लॉक प्रभारी की गोली मारकर हत्या, देखने तक नहीं पहुंचा संघ या BJP का कोई सदस्य

Please Share This News To Other Peoples....

गाजीपुर। देश में आरएसएस कार्यकताओं की हत्या के मामले थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। एक के बाद एक संघ के कार्यकर्ताओं की हत्याएं हो रही हैं। इस बार मामला पूर्वी यूपी के गाजीपुर है। जहाँ पर आरएसएस के ब्लॉक प्रभारी और पत्रकार राजेश मिश्रा की बाइक सवार बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी गई है।

जानकारी के मुताबिक ये शनिवार की सुबह करीब सात बजे जब राजेश मिश्रा अपने भाई के साथ को थाना करंडा के ब्राम्हण पूरा गांव में एक दुकान पर गए थे। इस दौरान दो बाइक सवार बदमाशों ने राजेश को गोली मार दी। वहीँ उन्हें बचाने की कोशिश की गई, जिसमें उनके छोटे भाई अमितेश को भी गोली लगी। अमित को गंभीर हालत में इलाज के लिए वाराणसी ले जाया गया है। थाना करंडा के ब्राम्हण पूरा गांव के रहने वाले राजेश मिश्रा आरएसएस कार्यकर्ता के साथ-साथ पत्रकार थे और एक हिंदी दैनिक के क्षेत्रीय संवाददाता थे। राजेश मिश्रा के करंडा ब्लाक के ओटीजी प्रभारी थे। राजेश ने बालू खनन माफिया के खिलाफ रिपोर्ट लिखें थी, ऐसे में खनन माफिया से उनकी खटपट थी।

मृतक के भाई गप्पू मिश्रा ने बताया कि घटना सुबह 7:00 बजे हुई थी और घटना के एक घंटे बाद भी पुलिस का कोई जिम्मेदार अधिकारी घटनास्थल या जिला अस्पताल नहीं पहुंचा। उनका कहना है कि इतना ही नहीं राजेश जिस पार्टी बीजेपी और RSS के लिए काम करता थे। उस पार्टी के एक अदना सा कार्यकर्ता भी घटनास्थल या जिला अस्पताल में नहीं आया। इस तरह से दिनदहाड़े किसी को गोली मार देना प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़ा करता है।

Related posts:

लखनऊ: नामांकन के अंतिम समय में कांग्रेस ने बदला अपना मेयर प्रत्याशी
हाफिज सईद पाकिस्तान में लड़ेगा चुनाव, बोला-ये कदम कश्मीर में आजादी मांगने वालों के नाम
यूपीकोका को लेकर जनता में योगी सरकार की पोल खोलेंगे : अखिलेश
ईबीएम से मिशन 2019 को फतह करेंगी मायावती
गोरखपुर दंगा : कोर्ट ने कहा- सीएम योगी के खिलाफ न चलेगा केस, न होगी सीबीआई जांच
लखनऊ: गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- ‘विदेश भागने वालों की संपत्ति करेंगे जब्त’
लखनऊ: कैसरबाग में दिनदहाड़े घर में घुसकर बदमाशों ने किया महिला को घायल
कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा को बड़ा झटका, विधायक विजय कुमार का निधन
बिना नाम के संचालित हो रहे मेडिकल स्टोर के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज
पढ़ लेते मोदी तो छोड़ देते नफरत की राजनीति : अखिलेश
सपा को दुश्मन बताकर बीजेपी ने चली ये चाल, मोदी सरकार से मायावती को मिला बड़ा ऑफर
दिल्ली से रूठा मानसून, उत्तर भारत के कई राज्यों में भारी बारिश की आशंका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *