रेलवे कर्मचारियों पर कसा शिकंजा,13,000 की सेवाएं होंगी समाप्त

रेलवे कर्मचारियोंरेलवे कर्मचारियों

लखनऊ। भारतीय रेलवे ने 13,000 कर्मचारियों की पहचान कर ली है, जो लंबे समय से अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित चल रहे हैं। ऐसे कर्मचारियों की सेवा समाप्त करने की अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

Image result for रेलवे

यह भी जानें:-भडक़ी राखी सावंत ने कहा तेरी सटक गई है, यूजर्स ने जमकर किया ट्रोल 

 

 रेलवे के जारी बयान के अनुसार-

Image result for रेलवे

मंत्रालय ने संगठन का प्रदर्शन बेहतर व निष्ठावान के अलावा मेहनती कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाने के लिए अभियान शुरु किया था। बता दें, यह कार्रवाई भी इसी अभियान का एक हिस्सा है।

रेलवे के विभिन्न प्रतिष्ठानों में लंबे समय से अनुपस्थित कर्मचारियों की पहचान करने के लिए एक व्यापक अभियान शुरु किया गया है। जिसके चलते जो आंकड़ा सामने आया वह बेहद चौकाने वाला है।

इस अभियान के परिणाम में रेलवे ने लगभग 13 लाख कर्मचारियों में से 13 हजार से भी ज्यादा कर्मचारियों की पहचान की गई है। जो लंबे समय से अपनी ड्यूटी से अनुपस्थित थें।

रेलवे ने ड्यूटी से अनुपस्थित कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त करने के लिए नियमों के अनुसार अनुशासनात्मक कार्रवाही शुरू कर दी है।  सभी अधिकारियों व पर्यवेक्षकों को उचित प्रक्रिया के बाद कर्मचारियों की सूची से नाम हटाने के निर्देश दिया है।

loading...
Loading...

You may also like

माकपा नेता का बड़ा बयान, कहा- पीएम मोदी केरल में हिंसा को भड़का रहे

नई दिल्ली। माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी(माकपा) के एक शीर्ष