यूपी में फिर एक बार तोड़ी गयी अम्बेडकर की मूर्ति, इलाके में तनाव का माहौल

- in उत्तर प्रदेश, लखनऊ
अम्बेडकरअम्बेडकर

आज़मगढ़। यूपी के मेरठ जिले के बाद एक बार फिर जातीय हिंसा को भड़काने की कोशिश की गयी है। आजमगढ़ में शनिवार को भीम राव अम्बेडकर की मूर्ति तोड़े जाने का मामला सामने आया है। जिसके बाद घटना की सूचना मिलेट ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। लेकिन मूर्ति तोड़ने वालों का अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। इस मामले में जांचा चल रही है। यह पहला मौका नहीं जब अम्बेडकर की मूर्ति को नुक्सान पहुंचाया गया हो। इससे पहले मेरठ में अम्बेडकर की मूर्ति तोड़े जाने का मामला सामने आया था। वहीं इस घटना के बाद ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने गांव में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

पढ़ें:-कांग्रेस इस ऐलान से बीजेपी की बढ़ी टेंशन, बसपा के खेमे में दौड़ी ख़ुशी की लहर 

अम्बेडकर की मूर्ति तोड़े जाने से ग्रामीणों में आक्रोश

बता दें कि त्रिपुरा में बीजेपी की जीत के बाद से ही मूर्तियों को नुक्सान पहुंचाने के कई मामले सामने आये हैं। सबसे पहले त्रिपुरा में लेनिन की मूर्ति को तोड़ा गया। इसके बाद तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में लेनिन, पेरियार और श्यामाप्रसाद मुख़र्जी की मूर्तियों को तोड़ने की घटना सामने आयी। वहीं हाल ही में यूपी के मेरठ में बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर की मूर्ति को तोड़ने का मामला सामने आया था। फिलहाल पुलिस ने मूर्ति तोड़े जाने के बाद भड़के हंगामे को शांत कर दिया है। एसडीएम ने भी दूसरी मूर्ति लगवाने का आश्वासन दिया है।

पढ़ें:-facebook का पिक्चर गार्ड दूर करेगा महिलाओं का डर, फोटो नहीं होगा डाउनलोड 

ताजा मामला आजमगढ़ के कप्तानगंज थाना क्षेत्र के राजापट्टी गांव का है। जहां पुलिस को स्थानीय लोगों ने सूचना दी कि गांव में आंबेडकर की प्रतिमा तोड़ी गई है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। हालांकि, इस मूर्ति तोड़े जाने की घटना के पीछे किन लोगों का हाथ है, पुलिस उसकी जांच कर रही है।

loading...
Loading...

You may also like

यूपी में एक अन्य sub Inspector की मौत से मचा हडकंप…

लखनऊ। यूपी में पुलिस कर्मियों के आत्महत्या करने