अब कॉरेस्पोन्डेन्स मोड में नहीं चलेगा टेक्निकल कोर्स : सुप्रीम कोर्ट

Please Share This News To Other Peoples....

नई दिल्ली। इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, फार्मेसी, मेडिकल समेत कई कोर्स कॉरेस्पोन्डेन्स मोड से नहीं चलाये जा सकेंगे। देश की सर्वोच्च अदालत ने शुक्रवार को साफ किया है कि किसी तरह का कोई भी टेक्निकल कोर्स कॉरेस्पोन्डेन्स मोड से नहीं होगा।

इस मामले में पहले दिए गए ओडिशा  हाई कोर्ट के फैसले को खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि तकनीकि शिक्षा दूरस्थ पाठ्यक्रम से नहीं उपलब्ध कराया जा सकता है। इससे पहले ओडिशा हाई कोर्ट ने टेक्निकल कोर्सेज को कॉरेस्पोन्डेन्स मोड से कराने की मंजूरी दी थी। बतातें चलें कि इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, फार्मेसी, मेडिकल ऐसे कोर्सेज हैं जिसे टेक्निकल कोर्स कहा जाता है और इनके कॉरेस्पोन्डेन्स मोड पर रोक लगा दी गई है।

सुप्रीम कोर्ट ने इस पर पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट के उस फैसले पर भी अपनी संस्तुति जाहिर की है, जिसमें दो साल पहले हाई कोर्ट ने कम्प्यूटर साइंस में दूरस्थ माध्यम से ली गई डिग्री को रेग्यूलर मोड में ली गई कम्प्यूटर साइंस की डिग्री को एक समान मानने से इनकार कर दिया था।

Related posts:

उप-मुख्यमंत्री झंडी दिखाकर रवाना करेंगे ‘ क्लीन इण्डिया - ग्रीन इण्डिया ’ प्रभात फेरी
मानवीय गुणों पर आधारित हो न्याय: पद्मश्री प्रो. मंसूर हसन  
योगी ने किया राष्ट्र ध्वज का अपमान, सोशल मीडिया पर विरोध शुरू
आतंकी चाहे मसूद अजहर का बेटा हो या कोई और, आतंक का सफाया हमारा मकसद: भारतीय सेना
...तो तीन साल में खुली  मोदी घोटाले की पोल, सच जानकर रह जायेंगे हैरान
राहुल जबरजस्ती के नेता है जबकि मोदी जबरजस्त नेता हैं
नोएडा: पीएम मोदी की सुरक्षा में हुई भूल, पुलिस से नाराज़ हुए सीएम योगी
CBI की गिरफ्त में CGST सेंट्रल एक्साइज के कमिश्नर सहित आठ
लखनऊ: महाशिवरात्रि के अवसर पर बच्चों का रंगारंग कार्यक्रम, चित्रकला और मूर्तिकला प्रतियोगीता में लिय...
CBSE पेपर लीक: प्रदर्शनकारियों को मिला SSC छात्रों का समर्थन
खुलासा: यूपी बोर्ड रिजल्ट में बड़ा फर्जीवाड़ा, जानबूझकर बढ़ाए गए छात्रों के नंबर
मुलायम सिंह की दत्तक पुत्री की हत्या, आधा दर्जन लोग गिरफ्तार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *