किसानों की बात करने वाले राहुल ने नहीं लौटायी किसानों की जमीन : स्मृति

किसानों की जमीनकिसानों की जमीन

अमेठी। केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि देश के किसानों को राहत देने का भाषण देने वाले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अमेठी में अपनी अगुवाई वाले राजीव गांधी ट्रस्ट द्वारा ले ली गयी। किसानों की जमीन अब तक वापस नहीं की है। स्मृति ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की शिरकत वाले एक कार्यक्रम में कहा कि अमेठी के किसानों ने फैक्ट्री लगवाने के लिये राज्य सरकार को अपनी जमीन दी थी। उन्हें आश्वासन दिया गया था कि इस जमीन पर सिर्फ फैक्ट्री चलेगी और अमेठी के लोगों को रोजगार मिलेगा। लेकिन जब यहां पर साइकिल फैक्ट्री बंद हुई तो राहुल गांधी की अगुवाई वाले राजीव गांधी फाउंडेशन ने इस जमीन को ले लिया। जबकि उसका काम कोई भी वित्तीय गतिविधि चलाना नहीं है।

उन्होंने कहा ऑर्डर निकला हुआ है कि यह जमीन उत्तर प्रदेश सरकार को वापस की जाए। राहुल जी का कब्जा किसानों की जमीन से हटाया जाए, लेकिन इससे प्रभावित किसान कह रहे हैं कि आज तक किसानों को राहत का भाषण देने वाले राहुल ने खुद किसानों की जब्त की गयी जमीन नहीं लौटायी है। स्मृति ने कहा राहुल जी ने यहां रिले ट्रांसमीटर का फीता काटा और पूछा कि अमेठी में एफएम स्टेशन क्यों बनवा रहे हो? जो रिले ट्रांसमिशन और एफएम स्टेशन के बीच का फर्क ना जानता हो वह सांसद विकास पर ज्ञान दे यह कितना शोभा देता है यह कांग्रेस के लिये चिन्तन और चिन्ता का विषय है। पिछले लोकसभा चुनाव में अमेठी लोकसभा सीट से राहुल को कड़ी टक्कर देने वाली स्मृति ने कहा कि अमेठी को मात्र वोट के नजरिये से देखने वाले लोगों की अकर्मण्यता का ही परिणाम है कि वर्ष 2011 में जिला बनाये जाने के बावजूद अमेठी में आज तक कलेक्टर का कार्यालय नहीं बना है।

loading...
Loading...

You may also like

राफेल डील पर अपने ही जाल में उलझे कांग्रेसी

एनके सिंह हमारा देश रक्षा के मामले और