उत्तर प्रदेश में पोलियों मिटाने के लिए कठिन परिश्रम जारी : डा.महेंद्र सिंह

24ghanteonline24ghanteonline

लखनऊ। दुनिया के कई देशों में पोलियो का वायरस अभी भी मौजूद है। वहां के बच्चे अभी भी इस वायरस की चपेट में आ जा रहे हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश में पोलियों मिटाने के लिए कठिन परिश्रम जारी है। यह कहना है चिकत्सा एवं स्वास्थ्य राज्यमंत्री डा.महेंद्र सिंह का। वह रविवार को अवंती बाई महिला चिकित्सालय में  पल्स पोलियो अभियान का शुभारंभ के मौके पर लोगों को संबोधित कर रहे थे।

यह भी पढ़ें : केजरीवाल ने इस मुद्दे पर मांगी कांग्रेस व बीजेपी की मदद…

स्वास्थ्य राज्यमंत्री डा.महेंद्र सिंह ने कहा कि…

उन्होंने कहा कि पोलियों का कोई मामला पिछले कई सालों से नजर नहीं आया है। यह परिश्रम का ही नतीजा है। आगे भी हमे इसी प्रकार लगन  से इस अभियान को चलाना है। उन्होंने आशा व्यक्त की है 12मार्च से घर-घर अभियान में कोई भी बच्चा पोलियो की वैक्सीन पीने से वंचित नहीं रहेगा। इस दौरान राज्यमंत्री ने अस्पताल की कंगारू केयर यूनिट का भी दौरा किया। वहां पर मां व उनके बच्चों को मिलने वाली व्यवस्थाओं का बारीकी से निरीक्षण भी किया।

यह भी पढ़ें : आंदोलन : मुंबई की दहलीज़ पर आक्रोशित किसानों की दस्तक…

इस मौके पर यूनिसेफ एवं यूएनडीपी के प्रतिनिधि रहे मौजूद…

इस अवसर पर निदेशक डा. सुरेश चन्द्र,निदेशक बलरामपुर चिकित्सालय डा.राजीव लोचन,निदेशक डा.राम मनोहर लोहिया डा.डी.एस.नेगी, सी.एम.एस. सिविल हास्पिटल डा ए के सिंह, अधीक्षक सिविल अस्पताल डा.आशुतोष दुबे, डा.ए.पी.चतुर्वेदी राज्य प्रतिरक्षण अधिकारी,मुख्य चिकित्सा अधिकारी लखनऊ डा.नरेंद्र अग्रवाल, अवंतीबाई चिकित्सालय की प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर सविता भट्ट,समस्त अपर मुख्य चिकित्साधिकारी  तथा डब्ल्यूएचओ ,यूनिसेफ एवं यूएनडीपी के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे ।

राजधानी में इस बार सुबह से जगह-जगह पर बनाये गये पोलियो बूथों पर बच्चों का आना शुरू हुआ। जो शाम तक जारी है। स्वास्थ्य अधिकारियों की माने तो इस बार  242364 बच्चों ने विभिन्न बूंथों पर  आकर दवा की खुराक पी है। पिछले चरण की अपेक्षा इस बार 1571 अधिक बच्चों ने पोलियों की खुराक पी है। सोमवार से घर-घर जाकर दवा पिलाने का कार्य शुरू होगा।
0से 5 वर्ष के बच्चों का लक्ष्य 765310
पोलियो बूथों की संख्या-2773
घर-घर टीमों की संख्या-1902
मोबाइल टीमों की संख्या-136
ट्रांजिट टीमों की संख्या-234
सुपरवाईजर्स की संख्या-565
वैक्सीनेटर की संख्या-6137
डिवीजनल अधिकारी-10

loading...

You may also like

अलीगढ़ एनकाउंटर पर उठे सवाल, पुलिस वाले इत्मीनान से खिंचवा रहे थे फोटो

अलीगढ़। यूपी पुलिस एक बार फिर एनकाउंटर को