अब कम खर्च में भी होगा लेसिक लेजर तकनीक से आँखों का इलाज : डा. अजय

Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। अब गरीब भी करा सकेंगे लेसिक लेजर तकनीक से आंखों का इलाज। अभी तक लेसिक लेजर तकनीक का इलाज राजधानी में काफी मंहगा था। लेकिन अब इस महज 15 हजार के खर्च पर इलाज मिल सकेगा। यह कहना है राजधानी के अलीगंज स्थित आई-क्यू सुपर स्पेशलिटी आई हॉस्पिटल्स के संस्थापक नेत्र शल्य चिकित्सक डा.अजय शर्मा का। वह गुुरुवार को चश्मा उतारने के लिए आधुनिक लेसिक तकनीक पर जागरुकता कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रहे थे।

डा. अजय ने बताया कि आंखे किसी की भी कमजोर हो सकती है,जो लोग सक्षम है वह कहीं भी अपना इलाज करा सकते हैं, लेकिन जिसकी आय कम है जो गरीब हैं,पहले तो उन्हें अपनी बीमारी का पता ही नहीं चल पाता और जब पाता चलता है। तो उनकी आर्थिक स्थित ऐसी नहीं होती की वह इलाज करा सकें। इसके हमने तरीका निकाला है कि कम से कम खर्च में हम गरीबों को इलाज दें।

डा. अजय के मुताबिक लेसिक तकनीक का उपयोग दृष्टि सुधार के लिए विश्व स्तर पर किया जाता है। उन्होंने बताया कि हमारे यहां सबसे नई तकनीक जियोपटिक्स मशीन द्वारा लोगों को इलाज मुहैया कराया जा रहा है। जिससे चश्में व कान्टेक्ट लेंस से छुटकारा मिल जाता है। इस अवसर पर डा.अनवरुल इस्लाम व डा.राहुल मौजूद रहे।

Related posts:

यूपी 100 परियोजना के लिए पुलिस में 4493 पद सृजित
कराटे ओलम्पिया-2017 में भूटान और नेपाल के कराटे प्लेयर्स लेंगे हिस्सा
लखनऊ : CM Yogi से मिले अखाड़ा परिषद के संत
केजीएमयू के चिकित्सक बने भगवान, युवती के इलाज का उठाया पूरा खर्च
किसानों की आय दोगुना करने में Medicinal and Aromatic Crops महत्वपूर्ण : गिरिराज सिंह
कैराना से बीजेपी सांसद हुकुम सिंह का निधन, अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे सीएम योगी
आरा में बैंक लूटने पहुंचे थे अपराधी, साथ लाये बम के विस्फोट का खुद हुए शिकार
बेगूसराय : शादीशुदा मालकिन से प्यार की मिली सजा, युवक की आंखों में डाला तेज़ाब
मालदीव : चीन ने दिया, भारत को बड़ा झटका
यूपी बोर्ड के 3 हजार छात्रों का रूक सकता है रिजल्ट
दलितों के हक बोलने पर खड़गे को मिली धमकी, नेता बोले- ये 70 साल की ज़िन्दगी को मानता हूं Extra
क्राइम ब्रांच ने 25 हजार के इनामी को दबोचा, दंगा भडक़ाने में देता था साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *