उन्नाव गैंगरेप : पीड़िता के पिता की मौत को लेकर पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बड़ा खुलासा, जांच के लिए SIT गठित

उन्नाव गैंगरेपउन्नाव गैंगरेप

उन्नाव। यूपी के उन्नाव गैंगरेप का मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। कोर्ट में याचिका दाखिल कर इस पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की गई है। साथ ही पीड़िता के पिता की मौत के बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट में चौकाने वाली बात सामने आयी। जिसे लेकर पुलिस प्रशासन पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। रिपोर्ट में पहले ही दिन पिटाई करने से बड़ी आंत फटने की बात सामने आयी है। वहीं एडीजी लॉ एंड आर्डर आनंद कुमार ने इस मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित कर दी है।

पढ़ें:- उन्नाव गैंगरेप : BJP विधायक का छोटा भाई गिरफ्तार, MLA जी भी जल्द होंगे सलाखों के पीछे 

उन्नाव गैंगरेप : पीड़िता के पिता की पिटाई के दौरान फटी आंत

यूपी के उन्नाव गैंगरेप में बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल समेत 4 लोगों को मारपीट के मामले में गिरफ्तार किया गया है। दरअसल, उन्नाव की एक महिला ने विधायक पर रेप का आरोप लगाया है। विधायक के भाई पर महिला के पिता से मारपीट करने और झूठा केस करने का आरोप है। वहीं सोमवार को जेल से हॉस्पिटल लाए गए महिला के पिता की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी।

पीड़िता के पिता को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया था। इस दौरान उनकी मौत हो गयी वहीं पोस्टमार्टम में चौकाने वाली बातें सामने आयी हैं। रिपोर्ट के मुताबिक पीड़िता के पिता को बेरहमी से पीटा गया था। जिससे पहले ही दिन पिटाई करने से बड़ी आंत फट गयी थी। कहा जा रहा है कि आंत फटने के कारण ही उनकी मौत हुई है। वहीं दो बार अल्ट्रासाउंड कराया गया था। लेकिन पुष्टि नहीं हो पायी। बताया जा रहा है कि श्वाग एन्ड सेप्टिशिमिया फैलने से मौत हुई है। बताया जा रहा है कि डॉक्टर की पैनल टीम ने आंत का टुकड़ा और विसरा  सुरक्षित रखा गया।

पढ़ें:- योगी के विधायक पर रेप का आरोप लगाने वाली युवती के पिता की मौत 

उन्नाव गैंगरेप मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित 

इस मामले के मीडिया में आने के बाद पुलिस-प्रशासन की भी नींद खुल गयी है। इस मामले में विधायक के भाई की गिरफ्तारी के बाद एडीजी लॉ एंड आर्डर ने एसआईटी का गठन कर दिया है। इस मामले में एडीजी लॉ एंड आर्डर आनंद कुमार का कहना है कि एसआईटी पूरे प्रकरण की जांच करेगी इस मामले में निष्पक्ष जांच की जाएगी।

बता दें कि इस मामले में पुलिस पर सवालिया निशान लग रहे हैं। रेप की पीड़िता का आरोप है कि विधायक के दबाव में एफआईआर नहीं दर्ज की गयी। वहीं इस मामले को लेकर विधायक पर भी आरोप लगे हैं। पुलिस उनसे भी पूछताछ कर सकती है।

पीड़िता ने विधायक और उसके छोटे भाई पर लगाए आरोप 

इस मामले में रेप की पीड़िता का आरोप है कि कुलदीप सेंगर को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है। मुझे नहीं पता कि उसके भाई को पकड़ा गया है। उसने मेरा जीवन दुखी बना दिया, मुझे इंसाफ चाहिए। मेरे पिता को भी मार डाला। हम चाहते हैं कि विधायक को फांसी दी जाए।

loading...

You may also like

पीएम को चोर करने पर भड़के सीएम योगी, कहा- राहुल और कांग्रेस देश से मांगे माफ़ी

गोरखपुर। राफेल डील को लेकर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति