यूपीटीईटी के अभ्यर्थियों हाईकोर्ट से राहत, सबसे बड़ी भर्ती का रास्ता साफ़

यूपीटीईटी
Please Share This News To Other Peoples....

इलाहाबाद। यूपीटीईटी के अभ्यर्थियों को इलाहाबाद हाईकोर्ट की तरफ से बड़ी राहत मिली है। कोर्ट के नए निर्देश से सबसे बड़ी 68500 सहायक अध्यापक भर्ती का रास्ता साफ हो गया है। जानकारी के मुताबिक हाईकोर्ट के निर्देश के बाद परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से 2 अंक से फेल हो रहे परीक्षार्थियों को 2 अंक का ग्रेस मार्क दिया गया है। बता दें कि कोर्ट के इस फैसले से इन अंकों का लाभ करीब 4500 नए अभ्यर्थियों को मिलेगा और वह शिक्षक भर्ती के दावेदार होंगे।

पढ़ें:- टीडीपी विधायक ने पीएम मोदी को बताया गद्दार और नमक हराम

यूपीटीईटी के अभ्यर्थियों की भर्ती अटकी

गौरतलब है कि, बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 68500 सहायक अध्यापक भर्ती पिछले महीने हाईकोर्ट का आदेश आने के बाद अटक गई थी। 6 मार्च को कोर्ट की एकल बेंच ने शिक्षक पात्रता परीक्षा यानि टीईटी 2017 से 14 प्रश्न हटाकर नए सिरे से परिणाम जारी करने का निर्देश दिया था। कोर्ट ने विषय विशेषज्ञों से विवादित 16 प्रश्नों का नए सिरे से मूल्यांकन कराया, जिसमें 13 प्रश्नों के जवाब वही मिले जो परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव की ओर उत्तरकुंजी में दिए गए थे। एक प्रश्न पर सचिव पहले ही ग्रेस मार्क्‍स दे चुकी हैं, जबकि दो अन्य प्रश्नों पर विभाग ने ग्रेस मार्क्‍स देने पर सहमति जताई है।

पढ़ें:- इस प्रकार करवा सकते हैं किसी पेट्रोल पम्प का लाइसेंस कैंसिल 

Related posts:

मायावती ने समर्थकों के साथ धर्म परिवर्तन की दी चेतावनी
दलित की जमीन कब्जाने की नियत से दबंग प्रधान ने जमकर पीटा
इस बिटामिन की कमी से होती हड्डियाँ कमजोर व शरीर के कई रोग
योगीराज: गर्मी में स्वेटर पहनेंगे यूपी के बच्चे
एंकर ने छेड़छाड़ पर फोटो खिंची तो पोज़ बनाने लगे मनचले, 1090 से नहीं मिली मदद
कासंगज में हिंदू ने ही हिंदू को मारा, मुस्लिम को फंसाया : रामगोपाल
योगी सरकार की सालगिरह पर जश्न की तैयारी, लेंगे बड़े फैसले
बड़ी खबर : मायावती या आनंद कुमार नहीं, ये हैं बसपा के राज्यसभा का उम्मीदवार
मैनपुरी: किसान की थ्रेसर में फंस कर दर्दनाक मौत
दवा लेने गई किशोरी फार्मेसिस्ट ने की छेड़छाड, जाँच के बहाने उतरवा रहा था कपड़े
चौकी प्रभारी डिड़ई की पहल पर पति-पत्नी एक साथ रहने को राजी
समय पर जांच व इलाज से ब्रेन ट्यूमर का उपचार संभव 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *