हम रहें या न रहें, देश को बर्बाद नहीं होने देंगे, सिर्फ अपने लिए जीना नहीं सीखा: पीएम मोदी

- in ख़ास खबर, राजनीति

बेंगलुरु। पीएम नरेन्द्र मोदी कर्नाटक के एक दिवसीय दौरे पर है। यहाँ पर पीएम ने उजीरे में जनसभा को संबोधित करते हुए डिजिटल इंडिया की जमकर तारीफ़ की। वहीं कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि  के दौरान कि कौन सा पंजा (कांग्रेस का चुनाव चिह्न) है, जो एक रुपए को घिसकर 15 पैसे बना देता है। हमने तय किया है कि दिल्ली से एक रुपये निकलेगा, तो गरीबों को 100 पैसा पहुंचेगा। उन्होंने कहा कि 12 लाख लोगों ने कैशलेस लेनदेन का संकल्प लिया है। हम रहें या न रहें, देश को बर्बाद नहीं होने देंगे। हमने अपने लिए जीना ही नहीं सीखा।

पीएम मोदी यहाँ नोटबंदी और डिजिटल इंडिया के मुद्दे पर कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कहा कि नोटबंदी के बाद अब भारत में डिजिटल करेंसी का दौर शुरू हुआ। ये जो करेंसी है हर युग में बदलती रही है। कभी पत्थर थे, कभी सोने-चांदी के थे, कभी कागज के आए अब डिजिटल करेंसी का युग शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि लेस कैश में भारत का भविष्य निहित है। भारत एक युवा राष्ट्र है और हमें इस युवा शक्ति का लाभ उठाना चाहिए। 12 लाख लोग अपना कार्यभार कैशलेस ट्रांजेक्शन से करेंगे।

पीएम मोदी ने आगे बोलते हुए कहा कि यूरिया इस्तेमाल हमें 50 प्रतिशत करने का लक्ष्य रखना चाहिए। अल्पावधि लाभ के बारे में नहीं सोचना चाहिए। हमें यूरिया के उपयोग को कम करने की जरूरत है।

पीएम मोदी ने वहीँ पूर्व वित्तमंत्री चिंदबरम का नाम लिए बगैर ही कहा कि कुछ लोगों को शर्म नहीं आती, कश्मीर में आजादी मांग रहे लोगों के साथ वे स्वर मिला रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश की अखंडता-एकता हम खत्म नहीं होने देंगे। पीएम ने कहा कि कल तक जो सत्ता में बैठे थे, वे अचानक यू टर्न ले रहे हैं और बेशर्मी के साथ बयान दे रहे हैं।

मंजूनाथेश्वर मंदिर के दर्शन करने के बाद पीएम मोदी ने कहा भगवान मंजूनाथ को भगवान शिव का ही स्वरूप माना जाता है। मंदिर का प्रबंधन देखने वाले डॉ. वीरेंद्र हेगड़े की तारीफ की। हेगड़े का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि उन्होंने वन लाइफ वन मिशन में अपने आप को समर्पित किया। उनका सम्मान करने के लिए मैं व्यक्ति के तौर पर बहुत छोटा हूं। जिस लक्ष्य को जीवन में तय किया उस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए क्या करना चाहिए यह हेगड़े के जीवन से सीखना चाहिए।

हेगड़े ने कहा था कि 50 साल पूरे हुए इसका सम्मान नहीं है आप तो मुझसे इसकी गारंटी मांग रहे हो कि मैं अगले 50 साल तक ऐसे ही काम करूं। जीवन में प्रतिपल काम के प्रति ईमानदार होना हेगड़े जी से सीखना चाहिए। वे दशम सौंदर्य लहरी उत्सव में जनता को संबोधित करेंगे और बीदर में बीदर-कलबुर्गी के बीच नई रेल लाइन की शुरुआत करेंगे। बता दें कि इस प्रोजेक्ट की आधारशीला 1996 में रखी गई थी लेकिन फंड की कमी के चलते इसका काम लटक गया था। देरी के चलते 370 करोड़ के प्रोजेक्ट की लागत बढक़र 1,542 करोड़ हो गई।

loading...
Loading...

You may also like

जानिए जनवरीमें सीएम योगी आदित्यनाथ देंगे कौन-सा तोहफा

लखनऊ।उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ अगले साल