पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा का भाजपा से मोहभंग, बोले देश का लोकतंत्र खतरे में

यशवंत सिन्हा
Please Share This News To Other Peoples....

पटना । पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने पार्टी के साथ अपने संबंधों को तोड़ दिया है। इसकी घोषणा करते हुए कहा कि वह भविष्य में किसी भी पद के दावेदार नहीं होंगे। केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि आज देश में लोकतंत्र खतरे में है।

सत्ताधारी दल ने संसद का बजट सत्र को नहीं चलने दिया: यशवंत सिन्हा

पटना में आयोजित ‘राष्ट्रमंच’ के पहले अधिवेशन को संबोधित करते हुए यशवंत सिन्हा ने कही। केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि सत्ताधारी दल ने संसद का बजट सत्र को नहीं चलने दिया। उन्होंने कहा कि विपक्ष सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ला रही थी। इस कारण केंद्र की मोदी सरकार ने सदन में व्यवधान डाला।

ये भी पढ़ें :-शिवराज सिंह चौहान ने कहा- 92 % घरवाले ही करते हैं नाबालिगों के साथ रेप 

संवैधानिक संस्थाओं पर सरकार के दबाव में रहने का आरोप

चुनाव आयोग जैसे निष्पक्ष संवैधानिक संस्थाओं पर सरकार के दबाव में रहने का आरोप लगाया है । उन्होंने कहा कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों की सदस्यता जिस तरह चुनाव आयोग ने रद्द की थी। उस पर उच्च न्यायालय को रोक लगानी पड़ी। राष्ट्रमंच को गैर राजनीतिक संगठन बताते हुए उन्होंने कहा कि इस मंच का राजनीति से कोई मतलब नहीं है, लेकिन इसमें शामिल लोग देश में लोकतंत्र के लिए लड़ते रहेंगे। उन्होंने कहा कि देश की वर्तमान स्थिति पर हम लोग चुप रहे तो आने वाली पीढ़ी हमें कभी माफ नहीं करेगी।

जांच एजेंसियां भी सरकार के दबाव में कर रही हैं काम

वाजपेयी सरकार में वित्त मंत्रालय का दायित्व संभालने वाले यशवंत सिन्हा ने कहा कि केंद्रीय जांच ब्यूरो, आयकर विभाग जैसी जांच एजेंसियां भी सरकार के दबाव में काम कर रही हैं। ऐसी स्थिति देश के लिए ठीक नहीं है। पटना में हुए इस ‘राष्ट्रमंच’ अधिवेशन में भाजपा नेता शत्रुघन सिन्हा, जद(यू) के उदय नारायण चौधरी समेत कांग्रेस की रेणुका चौधरी, राष्ट्रीय जनता दल के तेजस्वी यादव, आम आदमी पार्टी के संजय सिंह और आशुतोष व सपा नेता शामिल रहे।

Related posts:

यूपी निकाय चुनाव : लखनऊ नगर निगम की कल से शुरू होगी चुनावी प्रक्रिया
लखनऊ: नामांकन के अंतिम समय में कांग्रेस ने बदला अपना मेयर प्रत्याशी
पतंजली उत्पादों को 'हरिद्वार से हर द्वार तक' Online Order पर पहुंचाएंगी ये कंपनियां
दांत निकालने से ज्यादा आसान है इंप्लांट करना : प्रो.पूरन चंद्र
लखनऊ : शराब में धुत युवक ने लगाईं फांसी
UAE : आबु धाबी में पीएम मोदी करेंगे पहले हिन्दु मंदिर का उद्घाटन, देखें तस्वीरें...
communal violence में बीजेपी शासित राज्य अव्वल : गृह मंत्रालय
कुलदीप यादव की फिरकी का क़माल, पीछे छूटे मुरलीधरन
वाह रे! नवयुग कॉलेज, कॉमर्स में मान्यता एक सेक्शन की चलता है चार सेक्शन
असफलताओं में 150 का आंकड़ा पार, योगी सरकार कटघरे में
लोकसभा चुनाव: अखिलेश और मायावती करेंगे बैठक, इन अहम मुद्दों पर होगी चर्चा
हाईकोर्ट ने पूछा, क्या हो सकती है आजम खां की गिरफ्तारी? 24 को मई सरकार तलब

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *