आवारा जानवरों से शहर की जनता परेशान

- in उत्तर प्रदेश

लखीमपुर-खीरी। शहर में बढ़ती जा रही आवारा पशुओं की संख्या शहरवासियों तथा किसानों के लिए परेशानी का सबब बनती जा रही है। सड़कों व कूड़ा घरों के पास आवारा पशुओं की समस्या भयावह रूप लेती जा रही है। बीच सड़क पर पशुओं के आ जाने से अक्सर यातायात ठप हो जाता है यही आवारा जानवर बीच सडक पर लडाई शुरू कर देते हैं जो कभी कभी भयानक रूप ले लेते और सडकों पर आवागमन पूरी तरह से ठप हो जाता है इनके झगडे की चपेट में आकर लोग घायल भी हो जाते हैं कभी कभी इन आवारा जानवरों के चक्कर में लोगों की जान भी चली जाती है।सड़कों पर घूम रहे आवारा सांडों से आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती हैं। स्कूली बच्चे आवारा पशुओं की दहशत के चलते सड़क पर चलने से डरते हैं।समस्या भयावह होने के बाद भी जिम्मेदार नगर पालिका व प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। जबकि शहर के सौजन्या चौराहे पर आवारा जानवरों की लडाई में गाँव मीरपुर की रहने वाली एक छात्रा की जान चली गयी थी लेकिन आवारा पशुओं को पकडने के लिए न तो नगर पालिका परिषद तैयार है और न ही जिला प्रशासन कोई ठोस कार्रवाई कर रहा है पशु पालकों के द्वारा खुलेआम जानवरों को छोड दिया जा रहा है जो जनता व किसानों के लिए एक बडी समस्या बनते जा रहे हैं। लखीमपुर शहर में अस्पताल रोड पर भारतीय स्टेट बैंक के सामने सडक पर साँडों का आतंक फैला रहा लगभग आधा घन्टा तक बीच सडक पर दो साँड आपस में लडते रहे जिसके कारण सडक पर यातायात ठप हो गया शहर में आवारा जानवरों की बाढ़ सी आ गई है लोग अपनी जान को जोखिम में डालकर निकलने पर मजबूर हो रहे है जबकि शहर के सौजन्या चौराहे पर आवारा जानवरों के चलते एक छात्रा की आकस्मिक मौत हो चुकी है लेकिन घटना के बाद प्रशासन तथा नगर पालिका फिर वही पुराने डर्रे पर चल रही है छात्रा की मौत के बाद भी प्रशासन ने आवारा जानवरों को लेकर कोई ठोस कदम नहीं उठाया है तथा नगर पालिका भी पूरी तरह से लापरवाह बनी हुई है शहर में आये दिन कोई न कोई घटनाओं को आवारा जानवर अंजाम दे रहे हैं आवारा जानवरों को शहर से बाहर ले जाने के लिए प्रशासन व नगर पालिका संजीदा नजर नहीं आ रही है।

loading...

You may also like

मुलायम सिंह के अखिलेश की रैली में पहुंचने से भड़के शिवपाल, कह दी ये बड़ी बात

लखनऊ। समाजवादी सेक्युलर मोर्चा का गठन करने के