चीन के राष्ट्रपति के बयान पर भारत का पलटवार – ‘कोई आंतरिक मामलों में दखल न दे’

Loading...

नई दिल्ली। शी जिनपिंग के भारत दौरे पर आने से पूर्व चीन द्वारा दिये गये बयान पर भारत ने पलटवार करते हुए कहा कि कोई भी अन्य देश हमारे आंतरिक मामलों में दखल न दे। इससे पूर्व चीन के राष्ट्रपति ने कहा था कि उनकी कश्मीर पर स्थिति बनी हुई है और पाकिस्तान के मूल हितों का वे समर्थन करेंगे।

मीडिया की तरफ से चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की बैठक में कश्मीर के संदर्भ में पूछे गए सवाल के जवाब में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा- “हमने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ पाकिस्तानी पीएम इमरान खान की रिपोर्ट देखी है, जिसमें वे चर्चा के दौरान कश्मीर का हवाला दे रहे हैं। भारत का रुख स्थिर और बिल्कुल साफ है कि जम्मू कश्मीर भारत का आंतरिक हिस्सा है। चीन इस बात से भलीभांति वाकिफ है। कोई अन्य देश भारत के आंतरिक मामलों पर टिप्पणी न करें।”

इससे पहले, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा- चाहे अंतरार्ष्ट्रीय और क्षेत्रीय स्थिति में कोई भी बदलाव आए, चीन-पाकिस्तान की मित्रता हमेशा मजबूत बनी रहेगी।

यह भी पढ़ें..49 हस्तियों पर दर्ज हुए देशद्रोह के केस को बिहार पुलिस ने बंद करने का आदेश दिया

शी जिनपिंग ने कहा कि “चीन हमेशा पाकिस्तान को कूटनीति में प्राथमिकता देता है। पाकिस्तान के मूल हित और चिंता वाले मुद्दों पर चीन दृढ़ता से पाकिस्तान का समर्थन करता रहेगा। चीन पाकिस्तान के साथ रणनीतिक और व्यवहारिक सहयोग मजबूत करना चाहता है, ताकि नए युग में और घनिष्ठ चीन-पाकिस्तान साझे भविष्य का निमार्ण किया जा सके।”

यह भी पढ़ें..जियो कॉलिंग पर लगेंगे चार्ज, सोशल मीडिया पर कर रहा #BoycottJio ट्रेडिंग

Loading...
loading...

You may also like

Diwali 2019: दीवाली पर मां लक्ष्मी इन 6 तरह के लोगों के घर में नहीं आती

Loading... 🔊 Listen This News कार्तिक माह की