भीषण सड़क हादसे में एक युवक की मौत 7 लोग घायल

सडक़ हादसे
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। विभूतिखण्ड इलाके में सडक़ पर उल्टी दिशा से आ रहे ट्रक से रोडवेज बस की आमने-सामने टक्कर हो गई। भीषण सड़क हादसे में निजी गार्ड 40 वर्षीय रोहित गोस्वामी की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। जबकि चालक समेत 7 लोग घायल हो गए, घायलों में दो मासूम बच्चियां भी शामिल हैं। एक बच्ची की हालत ग भीर देखते हुए उसे ट्रामा सेण्टर रिफर किया गया है। अन्य घायलों का इलाज राम मनोहर लोहिया अस्पताल में चल रहा है। रोडवेज चालक ने ट्रक के चालक के खिलाफ विभूतिखण्ड थाने में मुकदमा दर्ज कराया है।

थाना प्रभारी विभूतिखण्ड ने बताया कि बुधवार तडक़े रोडवेज बस यूपी 77 टी 0264 के चालक तिगाई रूरा कानपुर देहात निवासी संजय सिंह सवारियां बैठाकर गोरखपुर से कानपुर जा रहे थे। इसी दौरान कमता प्लाई ओवरपुल पर विपरीत दिशा से ट्रक यूपी 20 बीएन 1726 तेज र तार में आ रहा था। ट्रक और रोडवेज बस में आमने-सामने की टक्कर हो गई। हादसा देख मौके पर अफरा-तफरी का माहौल हो गया। ट्रक चालक मेराज और रोडवेज बस चालक समेत आधा दर्जन से अधिक लोग लहुलूहान हो गए, जबकि एक अधेड़ व्यक्ति की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई।

घायलों को लोहिया अस्पताल में कराया भर्ती 

सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने आनन-फानन में घायलों को इलाज के लिए राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस ने मृतक की शिना त अ बेडकरनगर ग्राम नोराहली रामपुर निवासी 40 वर्षीय रोहित गोस्वामी के रूप में की है। पुलिस का कहना है रोहित निजी गार्ड था। पुलिस ने बताया कि राम मनोहर लोहिया अस्पताल में 40 वर्षीय निर्मला, 10 वर्षीय अलीना, 3 वर्षीय आलिया मुस्ताक, 25 वर्षीय साइना, अब्दुल सत्तार और ट्रक चालक मेराज का इलाज चल रहा हे। मासूम आलिया की हालत ग भीर देखते हुए चिकित्सक ने उसे ट्रामा सेण्टर रिफर किया है। रोडवेज चालक ने ट्रक चालक के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है।

3 घंटे तक चला रेस्क्यू का काम 

दोनों ही गाडिय़ों के टकराने की आवाज से इलाके में हडक़ प मच गया। हादसे के बाद सडक़ पर दोनों वाहनों के चलते जाम भी लगने लगा। इस हादसे में बस सवार यात्री फंस भी गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगो ंको निकालना शुरू किया। पुलिस को काफी मशक्कत का सामना भी करना पड़ा। तीन घंटे तक रेस्क्यू चलाकर पुलिस घायलों को बाहर निकाल पायी।

मेट्रो के काम के चलते रात में बन्द रहती है लेन

बताया जा रहा है की जहाँ हादसा हुआ वहां मेट्रो का काम चल रहा है। इसलिए रात के वक्त मेट्रो के काम के चलते एक साइड की लेन बन्द कर दी जाती है और रास्ता वन वे रहता है। मंगलवार रात भी एक साइड की लेन बन्द थी। बुधवार सुबह इसी के चलते ट्रक गलत दिशा से ओवर ब्रिज पर आया था। गलत दिशा से आ रहे ट्रक में बस भिड़ गयी और यह हादसा हो गया।

यह भी ज़रूर पढ़ें:हमले के बाद स्वामी अग्निवेश बोले, पहाडिय़ा समुदाय ने बुलाया, तो फिर जाऊंगा पाकुड़ 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *