Main Sliderउत्तराखंडख़ास खबरराष्ट्रीय

उत्तराखंड में 16 आईएएस और 6 पीसीएस अधिकारियों के तबादले

देहरादून। उत्तराखंड सरकार ने गुरूवार को बड़ा प्रशासनिक फेरबदल किया है। 16 आईएएस अधिकारियों और छह पीसीएस अधिकारियों के तबादले किए गए हैं।

रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारी मंगेश घिल्ड़ियाल को टिहरी गढ़वाल का जिलाधिकारी बनाया गया है, जबकि पिथौरागढ़ की सीडीओ वंदना को रूद्रप्रयाग का जिलाधिकारी बनाया गया है। आईएएस अरविंद सिंह ह्यांकी को कुमांऊ मंडल का आयुक्त बनाया गया है।

देश में 45, 300 लोगों ने जीती कोरोना से जंग, 63624 सक्रिय मामले

आईएएस नितेश कुमार झा को सचिव, चिकित्सा शिक्षा एवं चकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के पद हटाकर इसकी जिम्मेदारी अब आईएएस अमित नेगी को दे दी गई है। अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश से पीडब्ल्यूडी जैसा महत्वपूर्ण महकमा वापस ले लिया गया। दूसरा कोरोना आपातकाल के बावजूद स्वास्थ्य सचिव नितेश झा को बदल दिया गया।

उनकी जगह अमित सिंह नेगी लेगे जो वित्त और आपदा सचिव भी थे। नेगी से आपदा हटा के शैलेश बगौली को दे दिया गया। स्वास्थ्य सचिव नितेश झा को सिंचाई और लघु सिंचाई, पेयजल विभाग दिया गया है। बगौली से परिवहन आयुक्त पद हटा कर प्रीतक्षा में चल रहे दीपेंद्र चैधरी को दे दिया गया और राज्य संपत्ति अधिकारी भी बनाया गया है। ओम प्रकाश से हटा पीडब्ल्यूडी सचिव आर के सुधांशु को बनाया गया है। सचिव राज्यपाल और खेल युवा कल्याण देख रहे बृजेश कुमार संत को पंचायतीराज भी दिया गया है।

प्रमुख सचिव आनंदर्बन को नियोजना भी दे दिया गया है। सचिव हयांकी काफी समय से पेयजल और वन पर्यावरण संभाले हुए थे। उनको कुमायूं आयुक्त बना के उनका कद बढ़ाया गया है। वन पर्यावरण अब हरबंस सिंह चुग को दिया गया। टिहरी के जिलाधिकारी षणमुगम को हटा के उनकी जगह रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल को टिहरी भेजा गया है। पिथौरागढ़ की सीडीआ वंदना को टिहरी जिलाधिकारी बनाया गया है। सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम को भी अतिरिक्त जिम्मेदारी देते हुए पीडी यूजीवीएस, आईएलएसपी भी बनाया गया है।

षणमुगम को अपर सचिव ( महिला सशक्तिकरण और बाल विकास) बनाया गया है। इसके साथ ही पीसीएस में अरविंद पांडे को देहरादून का एडीएम (प्रशासन) बनाया गया है। वह रामजीशरण शर्मा की जगह आए, जिनको उनकी जगह रुद्रप्रयाग का जिलाधिकारी बनाया गया है। अपर सचिव झरना कमठान को अतिरिक्त मिशन निदेशक एनएचएम बनाया गया है। महिला सशक्तिकरण उनसे हटा दिया गया है।

loading...
Loading...