1984 सिख दंगा: सज्जन कुमार की जमानत पर फैसला रखा गया सुरक्षित, 25 मार्च को अगली सुनवाई

फैसला रखा गया सुरक्षितफैसला रखा गया सुरक्षित

नई दिल्ली। 1984 सिख दंगा मामले के एक मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे कांग्रेस के पूर्व नेता सज्जन कुमार की जमानत याचिका पर शुक्रवार यानी आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट ने सुनवाई के बाद जमानत पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया और अब इस मामले में अगली 25 मार्च को करेगी।

ये भी पढ़ें :-‘परिवार’ रखेंगे बरकरार,’ लोकसभा चुनाव में अखिलेश होंगे इस सीट के उम्मीदवार 

आपको बता दें सुप्रीम कोर्ट ने पिछली सुनवाई में कांग्रेस के पूर्व नेता सज्जन कुमार की अपील पर सीबीआइ को नोटिस जारी किया था। कांग्रेस के पूर्व नेता ने 1984 के सिख विरोधी दंगा मामले में दोषी ठहराए जाने के खिलाफ अपील दायर की है। सज्जन कुमार को दिल्ली कैंटोनमेंट के राज नगर इलाके में नवंबर 1984 को पांच सिखों की हत्या और एक गुरुद्वारे में आग लगाए जाने के मामले में दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई थी।

ये भी पढ़ें :-लोकसभा चुनाव 2019 के लिए BJP कल कर सकती है उम्मीदवारों के नाम का एलान 

जानकारी के मुताबिक 73 वर्षीय पूर्व कांग्रेस नेता ने सुनाई गई उम्रकैद की सजा भुगतने के लिए 31 दिसंबर 2018 को निचली अदालत में समर्पण किया था इसके बाद सज्जन कुमार को मंडोली जेल भेज दिया था।वहीँ दिल्ली हाई कोर्ट द्वारा सिख विरोधी दंगे में उम्रकैद की सजा सुनाए जाने के खिलाफ कांग्रेस नेता सज्जन कुमार ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है।

Loading...
loading...

You may also like

अमित शाह ने मोदी को संसदीय दल का नेता चुने जाने का समर्थन पत्र राष्ट्रपति को सौंपा

🔊 Listen This News नई दिल्ली। एनडीए का