इंडोनेशिया त्रासदी से मरने वालों की संख्या 2073 पहुंची, बचाव अभियान जारी

इंडोनेशियाइंडोनेशिया

जकार्ता। इंडोनेशिया के सेंट्रल सुलावेसी प्रांत में एक के बाद एक कई भूकंप के झटकों और सुनामी की चपेट में आये लोगों के मरने की संख्या 2073 पहुंच गई है। राष्ट्रीय आपदा एजेंसी ने खोज अभियान शुक्रवार को एक दिन के लिए बढ़ा दिया है। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता सुटोपो पुरवो नुगरोहो ने शिन्हुआ को बताया कि पीडि़तों की खोज जारी रखते हुए स्थानीय समुदाय के आग्रह पर तलाशी और बचाव अभियान को शुक्रवार को एक दिन के लिए बढ़ाया गया है। सुटोपो नुगरोहो ने संवाददाताओं से कहा की, ” तलाशी और बचाव अभियान आधिकारिक तौर पर शुक्रवार को समाप्त हो गया।”

ये भी पढे : अमेरिका से कारोबारी विवाद से परेशान चीन ने भारत से मांगा संयोग 

इस सितंबर को एक के बाद एक 6.0, 7.4 और 6.1 की तीव्रता के भूकंप के बाद प्रांतीय राजधानी पालू, डोंग्गाला, सिंगी और परिगी माउंटोंग में तीन मीटर तक सुनामी की लहरों की चपेट में आने पर शुक्रवार को 15वां दिन हो जाएगा। सुटोपो ने कहा की, ” यदि लोग वहां से शवों को निकालने की कोशिश कर रहे हैं तो हम उनसे ऐसा नहीं करने को कहेंगे क्योंकि शवों की स्थिति बहुत खराब है, उनसे हैजा जैसी बीमारी फैल सकती है।”

ये भी पढे : अमेरिकी प्रतिबंध के बाद भी भारत को तेल आपूर्ति करेगा सऊदी अरब 

उन्होंने कहा कि भूकंप और सुनामी से कुल 87 हजार लोग बेघर हो गये हैं, जिनमें से 78 हजार 994 लोग सेंट्रल प्रांत के 1112 आश्रय स्थलों में रह रहे हैं जबकि शेष आस-पास के प्रांतों में पलायन कर गये हैं। प्रवक्ता ने बताया कि कम से कम 2549 लोग गंभीर रूप से घायल हैं और 8130 लोग मामूली घायल हैं। इस प्राकृतिक आपदा के बाद से पांच हजार से अधिक लोग लापता हैं।

loading...
Loading...

You may also like

विधानसभा नतीजे: तेलंगाना में कांग्रेस ने EVM से छेड़छाड़ की जताई आशंका

हैदराबाद। तेलंगाना में सत्तारूढ़तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) राज्य