राफेल विमान को लेकर एक नया खुलासा, सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने के प्रावधानों को हटा दिया था

राफेल सौदाराफेल सौदा

नई दिल्ली। राफेल विमान डील को लेकर एक के बाद एक नये खुलासे हो रहे हैं। अब अंग्रजी अख़बार ‘द हिन्दू’ में प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया है कि राफेल सौदे पर हस्ताक्षर से कुछ दिन पहले सरकार की तरफ से मानक रक्षा खरीद प्रक्रिया में बदलाव करते हुए भ्रष्टाचार विरोधी कुछ मुख्य प्रावधानों को हटा दिया गया था।

ये भी पढ़ें :-राफेल मामले में कांग्रेस का CAG पर निशाना, आज संसद में घमासान के आसार 

आपको बता दें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी पीएम मोदी पर सीधे निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने लूट कराई है। राहुल ने कहा, “हर रक्षा सौदे में भ्रष्टाचार विरोधी धाराएं होती हैं। द हिंदू ने खबर दी है कि पीएम ने भ्रष्टाचार विरोधी खंड हटा दिया। यह साफ है कि पीएम ने लूट में सहायता की।

ये भी पढ़ें :-नायडू के धरने पर राहुल -मुलायम सहित पहुंचे कई नेता, किया समर्थन 

जानकारी के मुताबिक वहीँ राफेल डील को लेकर हुए नए खुलासे के बाद कांग्रेस ने एक बार फिर मोदी सरकार की घेराबंदी शुरू करदी है। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने अंग्रेजी अखबार ‘द हिंदू’ की एक खबर शेयर करते हुए ट्वीट किया, ‘मोदी जी, राफेल सौदे में सॉवरन गारंटी माफ करने के बाद अपने भ्रष्टाचार विरोधी प्रावधान में भी छूट दे दी। आखिर आप कौन सा भ्रष्टाचार छिपाना चाहते थे?”

Loading...
loading...

You may also like

बुंदेलखंड पहुंची प्रियंका ने महोबा में रोड शो कर जुटाया जनता का समर्थन

🔊 Listen This News हमीरपुर। पूर्व प्रस्तावित कार्यक्रम