पासपोर्ट सत्यापन के लिए गये दारोगा पर महिला से अभद्रता का आरोप

दारोगादारोगा

गाजियाबाद। इंदिरापुरम थाना क्षेत्र में एक पासपोर्ट सत्यापन करने गये दरोगा द्वारा महिला से अभद्रता का मामला सामने आया है। महिला का आरोप है की दरोगा से उसे गले लगने के लिए कहा।

महिला ने ट्विट कर की शिकायत

इंदिरापुरम थाना क्षेत्र के वसुंधरा में रहने वाली एक महिला मीडियाकर्मी ने पासपोर्ट का सत्यापन करने पहुंचे दारोगा पर अभद्रता का आरोप लगाया है। महिला ने इसकी शिकायत ट्विट के जरिये पासपोर्ट विभाग, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पुलिस व अन्य विभागों से की। महिला ने इसकी जानकारी एसएसपी समेत अन्य पुलिस अधिकारियों को भी सोशल मीडिया के माध्यम से दी है।

ये भी पढ़ें:-19 वर्षीय युवती को दूसरी मंजिल से कूदने के लिए किया मजबूर, लड़की की मौके पर मौत

एसएसपी से दारोगा को किया निलंबित

मामले की खबर मिलते ही एसएसपी ने देर शाम आरोपित सब इंस्पेक्टर देवेंद्र कुमार को निलंबित कर जांच बैठा दी है। इंदिरापुरम की वसुंधरा पुलिस चौकी पर तैनात दारोगा देवेंद्र कुमार बृहस्पतिवार दोपहर वसुंधरा सेक्टर-3 में रहने वाली महिला मीडियाकर्मी का पासपोर्ट सत्यापन करने गया था। महिला का पासपोर्ट रिन्यू होना था।

दारोगा ने महिला को गले लगने को कहा

पीड़िता ने बताया की सोसायटी के सुरक्षा गार्ड ने महिला के फ्लैट तक दारोगा को ले जाकर छोड़ा था। महिला उस वक्त अपनी घरेलू सहायिका के साथ थीं। महिला ने दरोगा को अपना परिचय दिया। इसके बाद पानी और जूस पीने के लिए दिया। इस दौरान दरोगा ने महिला से पासपोर्ट सत्यापन संबंधित कई सवाल पूछे और नोट किया। आरोप है कि दरोगा ने कहा कि ‘उसने उनका सत्यापन कर दिया है। अब बदले में उसे उनके गले लगना है।’ पीड़िता ने विरोध किया तो वह वहां से चला गया। इसके बाद उसने ट्वीट कर शिकायत की।

दारोगा के खिलाफ होगी कार्यवाई

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि सीओ रवि कुमार को जांच सौंपी गई है। अगर आरोप सही पाया गया तो दारोगा के खिलाफ उचित कार्यवाई होगी। शुरुआती आरोपों के आधार पर दारोगा को सस्पेंड कर दिया गया है। महिला को थाने आकर मामले की शिकायत दर्ज कराने को कहा गया है। उधर, महिला ने शुक्रवार को मामले की शिकायत थाने पर देने की बात कही है।

ये भी पढ़ें:जवाबदेही से बचने के लिये नर्स ने  20 मरीजों को धीमा जहरीला इंजेक्शन देकर मार डाला

दारोगा की हरकतों से डरी पीड़िता

इसके बाद महिला ने ट्वीट कर शिकायत की। पुलिसकर्मी पर प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए महिला ने कहा कि पासपोर्ट के लिए आवेदन करने वाली महिलाओं की सुरक्षा को खतरा है। देवेंद्र सिंह नाम का अफसर सत्यापन के लिए घर आया था। उसकी हरकतों से मैं डर गई, मैंने अपने हेल्पर से कहा कि जब तक सिपाही चला न जाए वो वहीं रुके। साफ जाहिर था कि पुलिसकर्मी जानबूझकर सत्यापन में देरी कर रहा था ताकि उसे घर में रुकने का और वक्त मिल जाए।

दारोगा को किया सस्पेंड

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि सीओ रवि कुमार को मामले की जांच सौंपी गई है। शुरुआती आरोपों के आधार पर दारोगा को सस्पेंड कर दिया गया है। महिला को थाने आकर मामले की शिकायत दर्ज कराने को कहा गया है। उधर, महिला ने शुक्रवार को मामले की शिकायत थाने पर देने की बात कही है। देर शाम महिला ने एसएसपी व अन्य पुलिस अधिकारियों को वाट्सएप पर शिकायत की।

ये भी पढ़ें:-अनंतनाग : CRPF कर्मियों पर पर आतंकी हमला, अफसर शहीद व दो जवान घायल 

दारोगा बोला, भूल कर भी नहीं कर सकता ऐसी गलती

निलंबित सब इंस्पेक्टर देवेंद्र सिंह ने बताया कि सत्यापन के दौरान महिला मीडियाकर्मी को अपना मूल पता तक नहीं पता था। पिता को फोन कर सभी जानकारियां उन्होंने उन्हें दीं। इस पर उन्होंने आपत्ति जताई तो वह गुस्सा हो गईं। इसके बाद वह वहां से आ गए। उन्होंने कोई गलत बात महिला मीडियाकर्मी से नहीं की। महिला ने पहले ही बता दिया था कि वे पत्रकार हैं। ऐसे में वह भूलकर भी ऐसी गलती नहीं कर सकता।

 

loading...
Loading...

You may also like

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी युवजन सभा प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा

लखनऊ। पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव की