24 घंटे में  3,712 सोशल मीडिया पोस्टों के खिलाफ हुई कार्रवाई, 37 गिरफ्तार

Loading...

लखनऊ। अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस द्वारा सोशल मीडिया पर नजर रखी जा रही है जिसके तहत अफवाह फैलाने के मामले में पुलिस ने 37 लोगों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में कई लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पुलिस महानिदेशक मुख्यालय की ओर से सोशल मीडिया पर कई जिलों में अभी भी नजर रखी जा रही है।

24 घंटे में  3,712 पोस्टों पर कार्यवाई

एडीजी कानून व्यवस्था पीवी रामाशास्त्री ने बताया कि 24 घंटे में  3,712 सोशल मीडिया पोस्टों के खिलाफ कार्रवाई की गई। इनमें से कई को रिपोर्ट कर हटवाया गया। पहली की गई ‘साइबर पेट्रोलिंग’के तहत ट्विटर, फेसबुक और यू-ट्यूब पर निगरानी रखी गई। सबसे अधिक ट्विटर पर 2426 पोस्ट, फेसबुक 865 पोस्ट और यू-ट्यूब के 69 वीडियो और प्रोफाइल के खिलाफ रिपोर्ट की गई।

75 प्रतिशत लोगों ने खुद से ही हटाई पोस्ट

अधिकारियों ने बताया कि इस बार ट्विटर पर आने वाली पोस्ट पर सीधे संबंधित प्रोफाइल के डायरेक्ट मैसेज से पुलिस ने वार्निंग दी। इसका असर यह हुआ कि 75 प्रतिशत लोगों ने खुद से ही पोस्ट हटा ली, जिन लोगों ने वार्निंग के बाद भी पोस्ट नहीं हटाई। सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क कर उनकी प्रोफाइल डीलिट कराया गया।

देर रात तक होती रही वायरल संदेशों की जाँच

पुलिस के सामने सबसे बड़ी चुनौती सोशल मीडिया पर भड़काऊ संदेशों व अफवाहों पर नियंत्रण की है। अधिकारियों ने बताया कि साइबर पेट्रोलिंग के जरिए इस पर शिकंजा कसा जा रहा है। शुक्रवार रात से ही मुख्यालय स्थित साइबर सेल के अधिकारियों को आफिस बुला लिया गया था। शनिवार देर रात तक आइजी वायरल संदेशों की जांच व कार्रवाई कराते रहे।

 

Loading...
loading...

You may also like

बाल दिवस विशेष : बच्चों में डालें यह विशेष आदतें

Loading... 🔊 Listen This News आज के बच्चे