बुलंदशहर हिंसा के बाद सीएम योगी और पीएम मोदी की पहली बैठक…

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने देश के पीएम नरेन्द्र मोदी के साथ गुरूवार को बैठक की। सीएम और पीएम मोदी की मुलाकात बुलंदशहर हिंसा के बाद हुई है। दरअसल, बुलंदशहर हिंसा के बाद यह उन दोनों की पहली मुलाक़ात है। जो गोकशी के बाद शुरू हुई और देखते हुए देखते स्थिति ऐसी बेकाबू हुई कि इसमें एक पुलिस इंस्पेक्टर समेत दो की जान चली गई।

बुलंदशहर भीड़ हिंसा का मुख्य आरोपी योगेश राज गिरफ्तार

जब सरकार के एक प्रवक्ता से यह पूछा गया कि क्या बुलंदशहर हिंसा के बारे में भी इस बैठक में चर्चा होनी है, इसके जवाब में उन्होंने कहा- “यह मेरी जानकारी में नहीं है, बैठक पहले से ही निर्धारित की जा चुकी थी।”

साथ ही प्रवक्ता ने ये भी बोला कि- “सीएम ने पीएम मोदी को गोरखपुर समेत राज्य में होने जा रहे कई कार्यक्रमों के लिए उन्हें आमंत्रण दिया है। ऐसी उम्मीद है कि राष्ट्रपति गोरखपुर के कार्यक्रम के दौरान 9 और 10 दिसंबर को वहां पर मौजूद रहेंगे।”

बुलंदशहर हिंसा: जिन्होंने किया बवाल, उन्होंने ही किए ये वीडियो वायरल 

बुलंदशहर हिंसा को जिस तरह संभाला गया उसको लेकर योगी सरकार विपक्ष के निशाने पर है। मॉब हमले के मुख्य आरोपी और बजरंग दल कार्यकर्ता योगेश राज अभी तक फरार है और उसने बुधवार को एक वीडियो जारी करते हुए खुद को निर्दोष बताया। साथ ही, उसने बताया कि उस वक्त वह घटनास्थल पर ही नहीं था।

बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती ने इस हिंसा के लिए बीजेपी को कसूरवार ठहराते हुए कहा कि यह सरकार की गलत नीतियों का परिणाम है। उन्होंने कहा- “दिल्ली से इतने सटे एक जिले में हिंसा इस बात का सबूत है कि उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी का जंगल राज है। हकीकत ये है कि कानून के रखवाले भी इसका शिकार हो रहे हैं, जो सबसे चिंता की बात है।”

बुलंदशहर हिंसा: सीएम योगी ने शहीद इंस्पेक्टर के परिजनों से की मुलाक़ात

जबकि, कांग्रेस ने आरोप लगाया कि राज्य की स्थिति संभालने की बजाय सीएम योगी चुनावी राज्य में प्रचार कर रहे हैं। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा- “राज्य की देखभाल की बजाय, योगी तेलंगाना जाकर निकाल उगल रहे हैं।”

loading...
Loading...

You may also like

ईएसआइसी अस्पताल में लगी आग, 147 से ज्यादा घायल, 6 की मौत

मुंबई। मुंबई के अंधेरी स्थित ईएसआइसी (ESIC)  कामगार