उपचुनाव : अखिलेश यादव का फरमान टिकट चाहिए तो करना होगा ये काम

अखिलेश यादवअखिलेश यादव
Loading...

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में 12 सीटों के लिए होने वाले विधानसभा उपचुनाव को लेकर सभी सियासी पार्टियां तैयारियां कर रही हैं। सूबे में सत्‍तारूढ़ बीजेपी ने चुनाव जीतने के लिए अपने कई मंत्रियों को रणनीति बनाने की जिम्‍मेदारी सौंपी है। तो बहुजन समाज पार्टी ने भी अकेले दम पर चुनाव में उतरने का फैसला किया है, जबकि बसपा के साथ गठबंधन टूटने के बाद अखिलेश यादव की सपा उपचुनाव में पूरे दमखम के साथ मैदान में है। मजेदार बात ये है कि समाजवादी पार्टी ने अपने कार्यकर्ताओं, नेताओं और पदाधिकारियों के नाम जारी एक संदेश में कहा है कि अगर किसी भी कार्यकर्ता को विधानसभा का उपचुनाव लड़ना है तो उन्हें आवेदन करना होगा।

आवेदन का फॉर्मेट भी तैयार, करना होगा ये काम

आवेदन का फॉर्मेट भी तैयार किया गया है जिसमें चुनाव लड़ने के इच्छुक व्यक्ति को अपना पूरा बायोडाटा और राजनीतिक जीवन में किए गए कामों का ब्यौरा देना होगा। तय फॉर्मेट के हिसाब से अपना फॉर्म भरकर व्यक्ति विशेष लखनऊ स्थित सपा कार्यालय में 20 जुलाई 2019 तक आवेदन कर सकता है। 20 जुलाई तक आने वाले आवेदनों की स्कैनिंग होगी और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव इस बात का फैसला लेंगे कि आखिर किस विधानसभा सीट से कौन प्रत्याशी चुनाव लड़ेगा।

World Cup 2019 : सेमीफाइनल में भारतीय टीम की हार से दुखी युवक ने खाया जहर 

समाजवादी पार्टी ने टिकटों के लिए आवेदन करने की शर्त के साथ ही यह बात भी साफ कर दी है कि अब उनकी पार्टी एकला चलो की राह पर निकल चुकी है। बसपा मुखिया मायावती के हालिया बयानों के बाद यह बात साफ हो गई है कि इस बार 2019 के विधानसभा उपचुनाव में बहुजन समाज पार्टी पूरी तरह से हिस्सा लेगी। यही नहीं, बसपा मुखिया मायावती ने जुलाई के पहले सप्ताह में उत्तर प्रदेश के सभी मंडलों के कोऑर्डिनेटर की बैठक करके यह बता दिया है कि उनकी तैयारी तेजी से चल रही है।

सपा कार्यालय पहुंचे अखिलेश ने कार्यकताओं में भरा जोश

राष्‍ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव आज सपा कार्यालय पहुंचे और पार्टी के पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं और नेताओं से मुलाकात की। इस दौरान अखिलेश यादव ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि वह जनता के बीच में जाएं और बताएं कि समाजवादी सरकार ने उनके लिए बेहतर काम किया था। फिलहाल चुनाव लड़ने के लिए सपा की तरफ से आवेदन की रखी गई। शर्त के बाद कुछ नेता असमंजस की स्थिति में है, लेकिन जब हुक्म ऊपर से आया है तो जिस किसी को भी विधानसभा का उपचुनाव लड़ना है तो उन्हें 20 जुलाई से पहले अपना आवेदन पत्र सपा कार्यालय में जमा करना ही होगा।

Loading...
loading...

You may also like

अखिलेश को झटका, ‘ब्लैककैट’ सुरक्षा वापस लेगा केंद्र

Loading... 🔊 Listen This News लखनऊ। पीएम मोदी