Press Conference : मायावती का अपमान, मेरा अपमान : अखिलेश यादव

लखनऊ। आज लखनऊ के ताज होटल में हुई महागठबंध की प्रेस कॉन्फ्रेंस में समाजवादी राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और बहुजन समाजवादी पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने एक साथ मंच सांझा किया, पहले सुप्रीमो मायावती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया जिसके ठीक बाद समाजवादी राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। प्रेस कॉन्फ्रेंस में माया-अखिलेश ने एक दूसरे का पूरा-पूरा बचाव किया और पूरी तरह से एक दूसरे का सम्मान करते हुए अपनी-अपनी बात कही। प्रेस कॉन्फ्रेंस ये सीटों का बटवारे की भी पूरी जानकारी दी।

मायावती के बाद बोलते हुए अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला। अखिलेश ने कहा कि उत्तरप्रदेश में बीजेपी ने माहौल खराब करते हुए जमकर जातिवाद फैलाया है। बीजेपी ने यूपी को जाति प्रदेश बना दिया है। इलाज के लिए जख्मी से पहले उसकी जाति पूछी जा रही है। अन्याय और अत्याचार के कारण शरीफ लोगों का जीना मुश्किल हो रहा है।

ये भी पढ़ें:- महागठबंधन : शाह मोदी की नींद उड़ाने वाली कॉन्फ्रेंस : मायावती 

अखिलेश यादव ने ये भी कहा कि मायावती का अपमान मेरा अपमान है। अखिलेश यादव का कहना है कि बीजेपी के घमंड को हराने के लिए बीएसपी और एसपी को एक साथ आना पड़ा। बीजेपी हमारे कार्यकर्ताओं में मतभेद पैदा करने के लिए भरसक प्रयास करेगी। हम एक साथ होकर उनका सामना करेंगे। अखिलेश यादव ने ये भी कहा कि मायावती का अपमान मेरा अपमान है।

38-38 सीटों पर लड़ेंगी एसपी-बीएसपी

मायावती ने यूपी में गठबंधन का ऐलान कर दिया है। 2019 आम चुनाव में एसपी और बीएसपी 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ने जा रहे हैं। 2 सीटें यानी अमेठी और रायबरेली को उन्होंने कांग्रेस के लिए छोड़ दिया है तो वहीं बाकी 2 सीटों को अन्य साथियों के लिए छोड़ दिया गया है।

जय समाजवाद और जय भीम एक साथ

लखनऊ के होटल ताज में प्रेस कॉन्फ्रेंस का मंच सच गया था। मंच पर दो कुर्सियां रखी गई थी। मंच के पीछे लगे पोस्टर में एक तरफ राम मनोहर लोहिया और अखिलेश की तस्वीर के साथ जय समाजवाद लिखा था तो दूसरी तरफ कांशीराम और मायावती की तस्वीर के साथ जय भीम लिखा था। पूरा कॉन्फ्रेंस हाल पत्रकारों से भर गया था।

Loading...
loading...

You may also like

कर्मयोगी और अनन्य राष्ट्रभक्त थे मनोहर पर्रिकर: डॉक्टर चन्द्रेश

🔊 Listen This News सिद्धार्थनगर। महान कर्मयोगी और