अखिलेश यादव की घोषणा, योगी माने तो मेधावी छात्रों को खुद देंगे लैपटॉप

अखिलेशअखिलेश

लखनऊ। यूपी की सत्ता में 2012 में सपा सरकार के आने की सबसे बड़ी घोषणा में से एक था। मेधावी छात्रों को लैपटॉप दिया जाना कथित तौर पर सपा का यह ऐलान उसे यूपी में सत्ता दिलाने के लिए बड़ा दांव साबित हुआ। लेकिन इन लैपटॉप में अखिलेश सरकार के ही प्रतीक थे जिन्हें हटाना लगभग नामुकिन था। वहीं कई लैपटॉप ऐसे भी थे जिन्हें उस वक्त वितरित नहीं किया गया। अब इन लैपटॉप योगी सरकार को कंपनी को लौटाना पड़ रहा है।

पढ़ें:- लोकसभा चुनाव : सपा-बसपा-कांग्रेस में इतनी-इतनी सीटों पर होगा समझौता 

अखिलेश मुलायम नहीं हटे तो लौटाए जा रहे हैं लैपटॉप 

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो सपा सरकार में मेधावी छात्रों को देने के लिए जिन लैपटॉप का आवंटन किया गया था। अब उन्हें योगी सरकार कंपनी को वापस लौटा रही है। इसके पीछे की वजह लैपटॉप की वेलकम स्क्रीन पर अखिलेश और मुलायम की तस्वीर का होना। योगी सरकार की तरफ से इन बचे हुए लैपटॉप में से इस तस्वीर को हटाने की भरसक कोशिश की गयी, लेकिन नाकाम रहे। बताया जा रहा है कि अब योगी सरकार इन लैपटॉप को कंपनी को वापस लौटाने जा रही है।

पढ़ें:- उन्नाव गैंगरेप: एसपी को मैनेज कर रहे थे आरोपी बीजेपी विधायक 

सपा अध्यक्ष ने योगी सरकार से की अपील 

वहीं योगी सरकार द्वारा इन लैपटॉप को वापस लौटने के फैसले पर सपा अध्यक्ष ने इन्हें मेधावी छात्रों में बांटने की अपील की है। साथ ही अखिलेश ने इसे हतोत्साहित करने वाला बताया है। अखिलेश ने इस मामले से जुड़ी खबर को ट्वीट करते हुए लिखा है कि मेधावी छात्रों को बाँटे जाने वाले लैपटॉप कम्पनी को वापस करना प्रदेश को पीछे ले जाने वाला क़दम है। सरकार इन लैपटॉप का जो भी दाम तय करेगी हम उस दर पर उन्हें ख़रीदकर ख़ुद मेधावी छात्रों में वितरित करने के लिए तैयार हैं। सरकार को राजनीति छोड़कर छात्रों को प्रोत्साहित करना चाहिए।

Loading...
loading...

You may also like

बिहार महागठबंधन में सीटों के बंटवारे का ऐलान

🔊 Listen This News पटना। लोकसभा चुनाव को