प्रधानमंत्री बनने से अखिलेश का इनकार, कहा- नहीं देख रहा मैं सपने

प्रधानमंत्रीप्रधानमंत्री

लखनऊ। आगामी लोकसभा चुनाव से पहले सभी राजनीतिक पार्टियां अपनी-अपनी रणनीति तैयार करने में जुटी हुई हैं। वहीं नेताओं की बयानबाजी भी जा रही है। आगामी लोकसभा चुनाव में विपक्षी दलों की एकजुटता को देखकर लगता है कि यह चुनाव बीजेपी बनाम विपक्ष होने वाला है। ऐसे में बड़ा सवाल ये भी विपक्ष का प्रधानमंत्री चेहरा कौन होने वाला है। इस सवाल के जवाब में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बेहद चौकाने वाल बयान दिया है। जोकि कोई राजनेता नहीं देगा।

पढ़ें:- बंगला तोड़फोड़ मामला : अखिलेश ने किया प्रेस कांफ्रेंस, योगी सरकार पर जताया गुस्सा 

प्रधानमंत्री बनने को लेकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव का बड़ा बयान

मीडिया में हमेशा ये बात सामने आती रही है कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को केंद्र की राजनीति में कदम रखने को लेकर अभी कोई दिलचपी नहीं है। वहीं अखिलेश के हाल ही में आये एक बयान ने इस बात की पुष्टि कर दी है। अखिलेश ने बुधवार को कहा कि देश का अगला नया प्रधानमंत्री बनाने में उनकी पार्टी की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। लेकिन वह खुद इस पद का सपना नहीं देख रहे हैं।

पढ़ें:- महागठबंधन का तैयार हुआ चुनावी गणित, इतनी सीटों पर लड़ेंगे अखिलेश और मायावती 

सपा अध्यक्ष ने मीडिया से कहा कि देश का अगला प्रधानमंत्री कौन बनेगा, इसमें सपा की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। उन्होंने कहा कि सपा कार्यकर्ता मिलकर देश का नया प्रधानमंत्री बनाएंगे। हालांकि अखिलेश ने यह भी स्पष्ट कहा कि वह पीएम नहीं बनना चाहते। उन्होंने साफ़ तौर पर कहा कि उनका कोई इतना बड़ा सपना नहीं है। वे यहीं यूपी में रहना चाहते हैं। उन्होंने गठबंधन के नए रास्ते बना दिये हैं। इसी से तो भाजपा परेशान है।

पढ़ें:- मायावती को ज्यादा सम्मान देना सपाइयों को नहीं हो रहा हज़म, समाजवादी पार्टी में बगावत शुरू 

बता दें कि अखिलेश लोकसभा के आगामी चुनाव से पहले विपक्षी दलों को एकजुट करने की भरसक कोशिश कर रहे हैं। बसपा तथा अन्य विपक्षी दलों की मदद से सपा ने गत मार्च में गोरखपुर और फूलपुर की प्रतिष्ठित लोकसभा सीटों के उपचुनाव जीते थे। इसके अलावा सपा ने हाल में हुए कैराना लोकसभा उपचुनाव में राष्ट्रीय लोकदल प्रत्याशी तबस्सुम हसन को समर्थन दिया था और वह चुनाव जीत गई थीं। गठबंधन की हर मुमकिन कोशिश कर रहे अखिलेश ने हाल में यह भी कहा था कि वह लोकसभा चुनाव में बसपा के लिये दो-चार सीटों का त्याग करने को भी तैयार हैं।

loading...
Loading...

You may also like

राजकीय बालगृह रहस्यमय हालात में चोटिल हुआ बच्चा, मौत

लखनऊ। मोहान रोड के राजकीय बालगृह (बालक) के